कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
चीनी मिलें चीनी के बजाए एथेनॉल बनाने पर जोर दें-गडकरी
नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने चीनी मिलों को सुझाव दिया कि उन्हें चीनी के उत्पादन की बजाय एथेनॉल बनाने पर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश में चीनी का बंपर उत्पादन 'बड़ी समस्या' है। गडकरी ने महाराष्ट्र स्टेट को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड की ओर से आयोजित 'शुगर कॉन्फ्रेंस 2020' को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि वर्तमान में देश में चीनी का बंपर उत्पादन हो रहा है, इसलिए चीनी का उत्पादन बढ़ाने में कोई फायदा नहीं है। लेकिन एथेनॉल में भविष्य है इसलिए चीनी मिलों को चीनी की बजाय एथेनॉल बनाने पर ध्यान देना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि देश में पानी की कमी नहीं है बल्कि जल प्रबंधन का अभाव है। गडकरी ने कहा कि केंद्र सरकार ने एथेनॉल पर एक पारदर्शी नीति पेश की है और पेट्रोलियम कंपनियां एथेनॉल को खरीदने के लिए तैयार है। कुल मिलाकर एथेनॉल का बाजार है। गडकरी ने कहा कि सरकार चीनी उद्योग के पुनरोद्धार के लिए बहुत कुछ कर रही है। स्रोत - आउटलुक एग्रीकल्चर, 8 जुलाई 2019
यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
16
0
संबंधित लेख