कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
एमएमटीसी ने मिस्र से 6,090 टन प्याज आयात के सौदे किए
खाद्य एवं उपभोक्ता मामले के मंत्री रामविलास पासवान ने ट्वीट कर बताया कि सरकार प्याज की कीमतों में कमी लाने के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने बताया कि एमएमटीसी ने 6,090 टन प्याज के आयात सौदे किए हैं। उपभोक्ता मामले मंत्रालय के सचिव ने राज्य सरकारों से प्याज की मांग के बारे में जानकारी ली।
हाल ही में कैबिनेट ने 1.2 लाख टन प्याज के आयात की अनुमति दी थी। एमएमटीसी ने मिश्र से 6,090 टन प्याज आयात के सौदे किए हैं, जिसके जल्द ही मुंबई बंदरगाह पहुंचने की उम्मीद है। कृषि मंत्रालय के अनुसार उत्पादक राज्यों में बेमौसम बारिश और बाढ़ से प्याज की फसल को भारी नुकसान हुआ है। केंद्र ने प्याज की कीमतों में तेजी को रोकने के लिए 29 सितंबर को इसके निर्यात पर पूरी तरह से रोक लगाने के साथ ही स्टॉक सीमा भी तय कर दी थी। राष्ट्रीय बागवानी अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्ठान के अनुसार उत्पादक मंडियों में प्याज की दैनिक आवक बढ़ नहीं रही है। महाराष्ट्र की लासलगांव मंडी में प्याज का भाव बढ़कर 60.26 से 75.99 रुपये प्रति किलो हो गए, जबकि पहली नवंबर को इसके भाव 47 रुपये प्रति किलो थे। स्रोत – आउटलुक एग्रीकल्चर, 25 नवंबर 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
157
0
संबंधित लेख