फलों का प्रसंस्करणएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
बेर से प्रक्रियायुक्त खाद्य पदार्थ बनाएं:
सूखे की स्थिति में भी बड़ी मात्रा में उत्पादन करनेवाली बागवानी फसल बेर है। लेकिन फसल के कटाई पश्चात, तकनीकी के आभाव के कारण की और प्रक्रिया के अपर्याप्त सुविधाओं के कारण, फल को बहुत नुकसान हो रहा है। एक ही समय में बड़ी संख्या में फल आने के कारण किसानों को भारी नुकसान होता है। इस मामले में, बाजार में मूल्य वर्धित उत्पादों का निर्माण करके उत्पाद की बिक्री की योजना और बेचने का प्रबंधन करके, किसानों के संभावित नुकसान से बचा जा सकता है।
बेर कैंडी: - उत्कृष्ट कैंडी को बेर के पूरी तरह से तैयार फल से बनाया जा सकता है। इसके लिए,अच्छे, स्वस्थ फलों का चयन करें,साथ पानी से अच्छी तरह से धोके एक सुई की द्वारा फल में छेद करे और कॉर्क बेरर के मदद से बीज को निकाल दीजिये और बेर को उबलकर पानी में 3 से 4 मिनिट रखिए। फिर एक जाली पर फैलाकर बेर को 2 ग्राम गंधक के धुएं का 2 घंटे तक भांप दे। भांप देने के बाद पहले दिन, 50 प्रतिशत चीनी के चासनी को तीव्रता में 3 घंटे तक रखा जाना चाहिए। प्रति लीटर चासनी को 1 ग्राम की दर से साइट्रिक एसिड डालिए। अगले दिन चीनी को डालकर चासनी की तीव्रता को 60 प्रतिशत करना चाहिए और फिर से 24 घंटे रखिए। तीसरे दिन, चासनी की 70 प्रतिशत तीव्रता को बढाकर अगले 3 से 4 दिन तक बेर को चासनी में डुबाकर रखिए, ध्यान रखें बेर पूरी तरह से डूब जाए। फिर चासनी से बेर को निकालकर निथार दें और 2 से 3 दिन पंखे के निचे अथवा और ड्रायर में सूखने दें। सूखने के बाद, पॉलीथीन बैग को ठंडी और सूखी जगह पर तौलें। स्रोत - एगोस्टार एग्रोनॉमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगती है, तो फोटो के नीचे पीले अंगूठे के आइकन पर क्लिक करें और नीचे दिए गए विकल्प के माध्यम से अपने सभी कृषक मित्रों के साथ साझा करें!
143
0
संबंधित लेख