कीट जीवन चक्रएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
नींबू वर्गीय पौधों में लीफ माइनर कीट का जीवन चक्र
क्षति के लक्षण:-_x000D_ लीफ माइनर कीट की इल्ली पत्तियों के अंदर सुरंग बना कर यह पत्तियों के हरित लवण को खाकर नुकसान पहुँचाती है, तथा इसके प्रकोप से पत्तियां सूख जाती है। इसके प्रभाव से पत्तियों पर सफेद लाइन बन जाती हैं। इसके प्रकोप से पत्तियों की निचली सतह सिल्वर जैसे हो जाती है। पत्तियां विकृत और झुर्रीदार हो जाती हैं। अधिक प्रकोप के कारण पत्तियां गिर जाती हैं। इसका अधिक प्रकोप होने से कैंकर रोग फैलता है। _x000D_ _x000D_ जीवन चक्र_x000D_ _x000D_ अंडा:- मादा मक्खी 13 दिनों के भीतर पत्तियों की कोशिका के अंदर 160 तक अंडे देती है। यह अंडे 2 से 3 दिनों के अंदर फूटते हैं।_x000D_ _x000D_ इल्ली:- लीफ माइनर कीट की इल्ली पत्तियों के अंदर सुरंग बनाती है, एवं हरित पदार्थ को खाती है। जिससे पत्तियों पर टेढ़ी-मेढ़ी संरचनाएं बनाती हैं।_x000D_ _x000D_ कृमिकोष:- लीफ माइनर कीट की इल्ली 2 से 20 दिनों के अंदर जमीन के अंदर कोषावस्था में परिवर्तित हो जाती है।_x000D_ _x000D_ प्रौढ़:- लीफ माइनर कीट की कोषावस्था से 6 से 22 दिनों दिनों के बाद बाहर आता है, एवं इसकी सालभर में कई पीढ़ियां पाई जाती हैं। एवं यह कीट पीले रंग की पीठ पर काली धारियों होती हैं।_x000D_ _x000D_ प्रबंधन:-_x000D_ _x000D_ बुप्रोफेज़िन 70.00% डीएफ या इमिडाक्लोप्रिड 17.80% एसएल @ 20 मिली या फोरेट 10% सीजी का छिड़काव कर इसका नियंत्रण किया जा सकता है। _x000D_ _x000D_ स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनॉमी सेंटर एक्सीलेंस_x000D_ यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो लाइक करें और अपने सभी किसान भाइयों के साथ शेयर करें धन्यवाद!_x000D_ _x000D_
65
0
संबंधित लेख