कृषि वार्ताफाइनेंशियल एक्सप्रेस
केसीसी पर लोन है तो जल्द निपटाएं ये काम, नहीं तो देना होगा 3% ज्यादा ब्याज!
किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए अगर आपने भी लोन लिया है तो यह खबर आपके लिए बहुत जरूरी है। लोन लेने वाले कार्ड धारकों के लिए 31 अगस्त की तारीख बेहद अहम है। अगर आपने केसीसी पर लोन लिया है तो इसे 31 अगस्त तक जरूर लौटा दें। ऐसा नहीं करने पर आपको ब्याज में छूट का फायदा नहीं मिलेगा और 4 फीसदी की जगह 7 फीसदी ब्याज भरना होगा। किसान क्रेडिट कार्ड से ली गई लोन की रकम को लौटाने वालों को सरकार अतिरिक्त 3 फीसदी की ब्याज छूट देती है। लेकिन ऐसा न करने पर यह लाभ नहीं मिलता है। बीते दिनों कोविड 19 की वजह से सरकार ने लोन को लौटाने की समय सीमा 31 मार्च से बढ़ाकर 31 अगस्त की थी। इसे ऐसे समझें किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए किसान 5 साल में 3 लाख रुपये तक का लोन शॉर्ट टर्म लोन ले सकते हैं। वैसे तो 9 फीसदी की दर पर लोन मिलता है, लेकिन सरकार इसपर 2 फीसदी की सब्सिडी देती है। इस लिहाज से यह 7 फीसदी हुआ। वहीं अगर किसान इस लोन को समय पर लौटा देता है तो उसे 3 फीसदी की और छूट मिल जाती है। यानी इस शर्त पर उसको लोन पर महज 4 फीसदी ब्याज देना होता है। 31 मार्च तक वापस करना होता है पैसा आमतौर पर केसीसी पर लिए गए लोन को 31 मार्च तक वापस करना होता है. लेकिन लॉकडाउन को देखते हुए सरकार ने यह डेट बढ़ाकर पहले पहले 31 मई किया था, जिसे फिर बढ़ाकर 31 अगस्त 2020 कर दिया गया। अब यह टाइम लिमिट भी पास आ रही है। अगर किसान इस समय तक पैसा नहीं लौटाते हैं तो उन्हें 7 फीसदी ब्याज के हिसाब से लोन भरना होगा। किसान क्रेडिट कार्ड के बारे में किसान क्रेडिट कार्ड का छोटे किसानों के लिए बेहद काम की योजना है। इसके जरिए किसानों को 1.6 लाख रुपये का लोन बिना गारंटी के दिया जा रहा है। वहीं 3 साल में किसान इसके जरिए 5 लाख रुपये तक का लोन ले सकते हैं। किसान क्रेडिट कार्ड की वैलिडिटी 5 साल की है। इस कार्ड में ब्याज दर भी बेहद कम 4 फीसदी सालाना है। लेकिन इसके लिए पीएम किसान में आपका खाता खुला होना जरूरी है। अबतक करीब 7 करोड़ लोग किसान क्रेडिट कार्ड धारक बन चुके हैं। सरकार आगे करीब 2.5 करोड़ किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड इश्यू करने जा रही है। कैसे करें आवेदन इसके लिए आपको सबसे पहले ऑफिशियल साइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाना होगा। यहां किसान क्रेडिट कार्ड का फॉर्म डाउनलोड करें। इस फॉर्म को आपको अपनी भूमि के दस्तावेज, फसल की डिटेल के साथ भरना होगा। यह जानकारी भी देनी होगी कि आपने किसी अन्य बैंक या शाखा से कोई और किसान क्रेडिट कार्ड नहीं बनवाया है। आईडी प्रूफ के लिए वोटर ID card/ PAN कार्ड/ पासपोर्ट/आधार कार्ड/ ड्राइविंग लाइसेंस आदि की डिटेल दी जा सकती है. वहीं, एड्रेस प्रूफ के लिए वोटर ID card / पासपोर्ट/आधार कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस आदि की डिटेल दे सकते हैं। आवेदन भरकर सबमिट करें, जिसके बाद संबंधित बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड आपको मिल जाएगा। स्रोत:- फाइनेंशियल एक्सप्रेस, 21 मई 2020, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी यदि आपको उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
32
3
संबंधित लेख