कृषि वार्ताएग्रोवन
केला उत्पादन में भारत सबसे आगे
इस साल केले का उत्पादन दुनिया के अन्य देशों के मुकाबले सबसे अधिक भारत में हुआ है। जिससे निर्यात अधिक होने की संभावना है। भारत में इस साल सबसे अधिक लगभग 30 मिलियन टन केले का उत्पादन होने की उम्मीद है। फिलिपींस केला उत्पादन में विश्व में तीसरे नंबर पर हैं लेकिन वहां इस साल केले के उत्पादन में लगभग 25 प्रतिशत की कमी आई है। इससे भारत को केले का निर्यात बढ़ने की संभावना है। फिलीपींस में केले की फसल जून से अक्टूबर के बीच होती है। वहां से खाड़ी देशों में बड़ी मात्रा में केले का निर्यात होता था। लेकिन इस बार फिलिपींस में केले का उत्पादन कम होने से खाड़ी देश विभिन्न एजेंसियों और एजेंटों के माध्यम से भारत से केले का निर्यात कर रहे हैं। नतीजतन, पिछले तीन दिनों में केले की दर में 60 रुपये प्रति क्विंटल का सुधार हुआ है। निर्यात की कीमत 1000 रुपये प्रति क्विंटल मिल रही है।
आंध्र प्रदेश में केले की कटाई का मौसम पहले ही समाप्त हो चुका है। मध्य प्रदेश और गुजरात में कटाई मई में शुरू होगी। वर्तमान में, महाराष्ट्र राज्य में केले की फसल जलगांव जिले में सबसे अधिक है। जहां से प्रति दिन दो कंटेनर (एक कंटेनर 20 मीट्रिक टन क्षमता) केले का निर्यात हो रहा है। बहरीन, मस्कट, अबू धाबी, ईरान, सऊदी अरब आदि खाड़ी देशों की रोज छह कंटेनर केले की मांग है। स्रोत - अॅग्रोवन, 16 मार्च, 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
168
0
संबंधित लेख