पशुपालनएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
पशुओं के लिए आदर्श आवास व्यवस्था
• पशु आवास आमतौर पर मानव निवास के पास होना चाहिए। • यदि आवसीय निर्माण भूमि आसपास के क्षेत्र की तुलना में थोड़ी अधिक ऊंची और समतल हो, जिससे बारिश का पानी एवं पशुओं का मूत्र आसानी से निकल जाए। • पशु आवास को साफ रखने के लिए पक्का फर्श होना चाहिए, ताकि इसे पानी से धोया और साफ किया जा सके। • पशुओं को पीने के पानी की व्यवस्था आवास में ही 24 घंटे होनी चाहिए।
• विशेष रूप से पशु शाला के दरवाजे पूर्व-पश्चिम दिशा की और बनाया जाना चाहिए ताकि सीधी धूप फर्श पर पहुंच सके। सूर्य प्रकाश की वजह से फर्श जीवाणु मुक्त रहता है।_x000D_ • पशु आवास हवादार होना चाहिए।_x000D_ • पशुओं को अत्यधिक ठंड और गर्म हवाओं से बचाने के लिए पशुशाला की दीवारें उत्तर- दक्षिण दिशा की ओर होनी चाहिए।_x000D_ • पशु आवास पक्की सड़क के नजदीक होना चाहिए, जिससे पशु उत्पाद लाने ले जाने में आसानी रहे।_x000D_ • विशेष रूप से आवास के नजदीक जंगली जानवरों की उपस्थिति नहीं होनी चाहिए। _x000D_ • पशु आवास में बिजली की आपूर्ति पर्याप्त और नियमित होनी चाहिए।_x000D_ • पशुओं के बिछावन में पुआल का प्रयोग करें।_x000D_ स्रोत : एग्रोस्टार एग्रोनॉमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस_x000D_ यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
351
0
संबंधित लेख