कृषि वार्तान्यूज18
सरकार ने बनाए 1.22 करोड़ नए KCC, अब किसानों को होगा बड़ा फायदा!
नई दिल्ली. मोदी सरकार ने खेती-किसानी को आगे बढ़ाने के लिए 1 करोड़ 22 लाख नए किसान क्रेडिट कार्ड बनाए हैं। ये कार्ड केसीसी को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम से लिंक करने के बाद हुए आवेदन के आधार पर बनाए गए हैं। इन कार्डों की कुल कर्ज सीमा 1,02,065 करोड़ रुपये है। केसीसी के तहत 3 लाख रुपये तक का लोन सिर्फ 4 फीसदी की ब्याज दर पर मिलता है। कार्ड की वैलीडिटी पांच साल होती है। केंद्रीय वित्त मंत्रालय के मुताबिक, कोविड-19 से कृषि क्षेत्र को बचाने के प्रयासों के तहत किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए खेती करने वालों को रियायती कर्ज देने के लिए एक अभियान चलाया जा रहा है। इन सवा करोड़ कार्डों से ग्रामीण अर्थव्यवस्था में नई जान फूंकने और कृषि क्षेत्र के विकास की गति तेज करने में काफी मदद मिलेगी। सरकार ने ‘आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज’ के एक हिस्से के रूप में 2 लाख करोड़ रुपये के रियायती ऋण का प्रावधान या व्‍यवस्‍था करने की घोषणा की थी, जिससे मछुआरों और डेयरी किसानों सहित 2.5 करोड़ किसानों के लाभान्वित होने की आशा है। किसानों को मिलती है बड़ी छूट खेती-किसानी के लिए ब्याजदर वैसे तो 9 फीसदी है। लेकिन सरकार इसमें 2 परसेंट की सब्सिडी देती है। इस तरह यह 7 फीसदी पड़ता है। लेकिन समय पर लौटा देने पर 3 फीसदी और छूट मिल जाती है। इस तरह इसकी दर ईमानदार किसानों के लिए मात्र 4 फीसदी रह जाती है। कोई भी साहूकार इतनी सस्ती दर पर किसी को कर्ज नहीं दे सकता। स्रोत:- न्यूज़ 18, 20 अगस्त 2020, प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
64
9
संबंधित लेख