पशुपालनपशु चिकित्सक
पशुओं की पहचान करने के विभिन्न तरीके
यदि पशु पालक के पास कम पशु हैं तो, उनके प्रत्येक जानवर की पहचान करना और उन्हें एक दूसरे से अलग करना संभव है। लेकिन जो लोग आधुनिक तरीके से बड़े स्तर पर पशुपालन करते हैं उनके लिए पशुओं की पहचान करने के लिए एक विशिष्ट तरीके का होना आवश्यक है।_x000D_ _x000D_ जानवरों की पहचान करने का महत्व:_x000D_ • बड़े पैमाने पर दैनिक कार्यों जैसे कि पशु प्रजनन, बछड़े का पंजीकरण, मृतक पशु, पशु का उपचार, पशु के दूध उत्पादन के पंजीकरण के लिए सभी प्रकार के पशुओं की पहचान आवश्यक है।_x000D_ • पशु पंजीकरण और बीमा पॉलसीयों के लिए पशु की पहचान आवश्यक है।_x000D_ _x000D_ जानवरों की पहचान के तरीके:_x000D_ नाम: जानवरों के नाम पशु की खरीद के स्थान के नाम, शारीरिक रूप, नदी या देवी के नाम आदि के आधार पर रखा जा सकता है। उदाहरण के लिए, गंगा, जमुना, गायत्री आदि। ऐसे तरीके ज्यादातर लोग अपनाते हैं।_x000D_ इसके अलावा अन्य तरीके भी हैं जैसे टैटू, ईयर टैगिंग, ब्रांडिंग आदि।_x000D_ इस विधि की विस्तृत जानकारी आने वाले लेख में दी जाएगी।_x000D_ यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगती है, तो फोटो के नीचे पीले अंगूठे के आइकन पर क्लिक करें और नीचे दिए गए विकल्प के माध्यम से अपने सभी कृषक मित्रों के साथ साझा करें!_x000D_
136
0
संबंधित लेख