AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
12 Jan 20, 06:30 PM
पशुपालनपशु चिकित्सक
पशुओं की पहचान करने के विभिन्न तरीके
यदि पशु पालक के पास कम पशु हैं तो, उनके प्रत्येक जानवर की पहचान करना और उन्हें एक दूसरे से अलग करना संभव है। लेकिन जो लोग आधुनिक तरीके से बड़े स्तर पर पशुपालन करते हैं उनके लिए पशुओं की पहचान करने के लिए एक विशिष्ट तरीके का होना आवश्यक है। जानवरों की पहचान करने का महत्व: • बड़े पैमाने पर दैनिक कार्यों जैसे कि पशु प्रजनन, बछड़े का पंजीकरण, मृतक पशु, पशु का उपचार, पशु के दूध उत्पादन के पंजीकरण के लिए सभी प्रकार के पशुओं की पहचान आवश्यक है। • पशु पंजीकरण और बीमा पॉलसीयों के लिए पशु की पहचान आवश्यक है। जानवरों की पहचान के तरीके: नाम: जानवरों के नाम पशु की खरीद के स्थान के नाम, शारीरिक रूप, नदी या देवी के नाम आदि के आधार पर रखा जा सकता है। उदाहरण के लिए, गंगा, जमुना, गायत्री आदि। ऐसे तरीके ज्यादातर लोग अपनाते हैं। इसके अलावा अन्य तरीके भी हैं जैसे टैटू, ईयर टैगिंग, ब्रांडिंग आदि। इस विधि की विस्तृत जानकारी आने वाले लेख में दी जाएगी। यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगती है, तो फोटो के नीचे पीले अंगूठे के आइकन पर क्लिक करें और नीचे दिए गए विकल्प के माध्यम से अपने सभी कृषक मित्रों के साथ साझा करें!
107
0