कृषि वार्ताप्रभात
प्याज पर निर्यात प्रतिबंध हटाने की संभावना
नए प्याज अब बाजार में बड़ी मात्रा में उपलब्ध हैं। इसलिए उनकी दरों में गिरावट की उम्मीद है। परिणामस्वरूप, प्याज के निर्यात पर से प्रतिबंध हटने की संभावना है।
सार्वजनिक वितरण विभाग के अधिकारियों ने संकेत दिया है कि नए प्याज के बाजार में प्रवेश करते ही प्याज के दाम नहीं बढ़ेंगे। पिछले महीने प्याज की कटाई के बाद प्याज के दाम 160 रुपये प्रति किलो तक थे। सरकार ने प्याज की कमी को दूर करने के लिए निर्यात को निलंबित करने की कोशिश की थी और साथ ही इसे सीमित करने के लिए आयात भी किया था। इस बीच प्याज की कीमतें 50 रु से 60 रु प्रति किलो तक था। ज्यादातर राज्यों ने आयातित प्याज को ठुकरा दिया है। नतीजतन, घरेलू प्याज के लिए भंडार और आपूर्ति बढ़ रही है। इसलिए, प्याज के निर्यात से प्रतिबंध हटाने पर विचार किया जा रहा है। ताकि प्याज की कीमतों को गिरने से रोका जा सके। स्रोत: प्रभात, 26 जनवरी 2020 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
547
0
संबंधित लेख