कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
बासमती चावल का निर्यात बढ़ा
बासमती चावल का निर्यात 2.62 फीसदी बढ़कर 33.65 लाख टन का हुआ है। बंगलादेश के साथ ही अन्य देशों की आयात मांग कम होने के कारण चालू वित्त वर्ष 2018-19 के पहले 10 महीनों अप्रैल से जनवरी के दौरान गैर-बासमती चावल के निर्यात में 15.45 फीसदी की गिरावट आकर कुल निर्यात 61.21 लाख टन का ही हुआ है। इस दौरान बासमती चावल का निर्यात 2.62 फीसदी बढ़कर 33.65 लाख टन का हुआ है। एपीडा के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार पिछले वित्त वर्ष में बंगलादेश ने गैर-बासमती चावल का आयात ज्यादा किया था, जबकि चालू वित्त वर्ष में बंगलादेश के पास घरेलू स्टॉक ज्यादा है जिस कारण बंगलादेश की आयात मांग कम रही है।
बासमती चावल का निर्यात चालू वित्त वर्ष 2018-19 के पहले दस महीनों अप्रैल से जनवरी के दौरान 2.62 फीसदी बढ़कर 33.65 लाख टन का हुआ है जबकि पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की समान अवधि में इसका निर्यात 32.79 लाख टन का ही हुआ था। मूल्य के हिसाब से चालू वित्त वर्ष के पहले दस महीनों में बासमती चावल का निर्यात 24,919 करोड़ रुपये का हुआ है जबकि पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की समान अवधि में 21,319 करोड़ रुपये मूल्य का ही निर्यात हुआ था। संदर्भ – आउटलुक एग्रीकल्चर, ५ मार्च २०१९ यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
36
0
संबंधित लेख