गुरु ज्ञानएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
नींबू और अनार में फल फटने के कारण और उपाय
कभी-कभी फल पेड़ पर तोड़ने से पहले ही फट जाते हैं। ऐसा पेड़ों में पोषक तत्वों की कमी की वजह से हो सकता है। इस कारण कवक या बैक्टीरिया फल के अंदर प्रवेश कर उनमें सड़न पैदा करते हैं। यह नींबू और अनार दोनों फलों में देखा गया है। फल फटने के कारण - • अचानक वातावरण में आया परिवर्तन। • बोरान, कैल्शियम या नाइट्रोजन की कमी। • गर्मियों में बेमौसम बारिश। • जीवाणु और कवक का संक्रमण। • जिबरैलिक एसिड की कमी। • फलों पर प्रत्यक्ष सूर्य के प्रकाश का प्रभाव। • वातावरण के ताप में अचानक परिवर्तन।
उपाय - • प्रभावी सिंचाई प्रणाली लागू करें। • बारिश का पानी फल के पेड़ के पास या बागीचे में जमा न होने दें। इसकी निकासी की व्यवस्था करें। • पोषक तत्वों की कमी होने पर बगीचे में बोरेक्स 0.02%, कॉपर सल्फेट 0.3% और पोटेशियम सल्फेट 2% का छिड़काव करें। इसके अलावा, एनएए @ 20 पीपीएम और जिब्रेलिक एसिड के 10 पीपीएम छिड़काव करें। • जून में बोरेक्स 1% को अनार और नींबू और इसी तरह पीपीएम जिब्रेलिक एसिड @120 का छिड़काव करें। • बागीचे में वैज्ञानिक तरीके का पालन करें। डॉ. टी.एम. भरपोडा, एंटोमोलॉजी के पूर्व प्रोफेसर, बी ए कालेज ऑफ एग्रीकल्चर, आनंद कृषि विश्वविद्यालय, आनंद- 388 110 (गुजरात भारत)
398
2
संबंधित लेख