कृषि वार्तापुढारी
देश से बासमती चावल का निर्यात घटा
नई दिल्ली। देश से बड़ी मात्रा में बासमती चावल ईरान को निर्यात किया जाता है। हालांकि, पिछले दो महीनों से, बासमती चावल का निर्यात घटकर आधा रह गया है और स्थानीय बाजारों में, चावल की कीमत 20 से 22 रुपये तक घट गई है। बासमती चावल के निर्यात का 60 प्रतिशत से अधिक अकेले ईरान को होता है।
देश में बड़ी मात्रा में पंजाब, हरियाणा, अमृतसर और दिल्ली के भागों में बासमती चावल की खेती की जाती है। वहां से पारंपरिक बासमती के साथ 1121, 1401, 1509 चावल विदेशों में भेजे जाते हैं। भारत ने अमेरिका और ईरान में महीनों से जारी व्यापार युद्ध् के मद्देनजर ईरान से कच्चा तेल आयात करना बंद कर दिया है। नतीजतन, ईरान ने भी भारत से सबसे व्यापक रूप से भेजे जाने वाले बासमती चावल को खरीदना बंद कर दिया है।_x000D_ _x000D_ सन्दर्भ - पुढारी, 26 नवंबर 2019_x000D_ यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगती है, तो फोटो के नीचे पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए गए विकल्प के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें!_x000D_
100
0
संबंधित लेख