मानसून समाचारकृषि जागरण
गरज और बरस के साथ बारिश की संभावना
इस समय चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ क्षेत्र पर दिखाई दे रहा है। दूसरी ओर मानसून की अक्षीय रेखा राजस्थान से बंगाल की खाड़ी तक बनी हुई है। आने वाले दिनों में मध्य प्रदेश, गुजरात, उप हिमालय, पश्चिम बंगाल में ज्यादातर स्थानों पर जबकि छत्तीसगढ़, दक्षिणी उत्तर प्रदेश, असम के कुछ स्थानों पर काफी गरज और बरस के साथ बारिश होने की संभावना है। गुजरात और गोवा, बिहार, झारखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश और पूर्वोत्तर राज्यों के कई स्थानों पर मध्यम बारिश हो सकती है। लेकिन गुजरात, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में मौसम शुष्क रहेगा। हालांकि एक दो जगहों पर बारिश की संभावना बनी हुई है। स्रोत – कृषि जागरण, 9 सितंबर 2019
यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
59
0
संबंधित लेख