कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य में 3.4 फीसदी बढ़ोतरी की सिफारिश
सरकार ने खरीफ विपणन सीजन 2019-20 के लिए धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में मात्र 3.3-3.4 फीसदी की बढ़ोतरी की सिफारिश ही की है, जबकि मई में खुदरा महंगाई दर ही 3.05 फीसदी हो गई।
कृषि मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार खरीफ सीजन की प्रमुख फसल धान के एमएसपी में 60 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की सिफारिश कृषि लागत एवं मूल्य आयोग (सीएसीपी) ने की है। खरीफ विपणन सीजन 2019-20 के लिए आम किस्म (कॉमन वैरायटी) के धान का एमएसपी 1,810 रुपये और ए-ग्रेड धान का एमएसपी 1,830 रुपये प्रति क्विंटल तय करने की सिफारिश की गई है। आमतौर पर सीएसीपी की सिफारिशों पर ही अंतिम मुहर लग जाती है। उन्होंने बताया कि खरीफ की अन्य फसलों ज्वार, बाजरा और मक्का के एमएसपी में सीएसीपी ने 6 से 7 फीसदी की बढ़ोतरी की सिफारिश की है। उन्होंने बताया कि खाद्य तेलों के आयात में कमी लाने के लिए चालू खरीफ सीजन में सीएसीपी ने तिलहन की प्रमुख फसलों सोयाबीन और मूंगफली के एमएसपी में बढ़ोतरी 8 से 10 फीसदी करने की सिफारिश की है। स्रोत – आउटलुक एग्रीकल्चर, 1 जुलाई 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
13
0
संबंधित लेख