सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
आलू में अगेती झुलसा की रोकथाम!
👉🏻किसान भाइयों आलू की फसल में अगेती झुलसा बीमारी से पत्तियों और कन्द दोनों प्रभावित होते हैं। आरम्भ में इस बीमारी के लक्षण निचली तथा पुरानी पत्तियों पर छोटे गोल से अण्डाकार भूरे धब्बों के रूप में दिखाई देते हैं। इस बीमारी से प्रभावित कन्दों पर दबे हुए धब्बे तथा नीचे का गूदा भूरा एवं शुष्क हो जाता है। अतः रोग अवरोधी किस्मों का चयन किया जाये। 👉🏻इस बीमारी की रोकथाम के लिए कॉपर आक्सीक्लोराइड 50 प्रतिशत डब्ल्यू पी फफूँदनाशक @ 1 किग्रा० प्रति एकड़ की दर से 300-400 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें। या 👉🏻मैंकोजेब 75 प्रतिशत डब्ल्यू पी @ 600 से 800 ग्राम प्रति एकड़ की दर से 300 लीटर पानी में फसल पर छिडकाव करें।
स्रोत- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
20
3
संबंधित लेख