एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
धनिया में उकटा रोग की रोकथाम के लिए!
उकठा उगरा विल्ट/रोग: उकठा रोग फ्यूजेरियम आक्सीस्पोरम एवं फ्यूजेरियम कोरिएनड्री कवक के द्वारा फैलता है । इस रोग के कारण पौधे मुरझा जाते है और पौधे सूख जाते है । ग्रीष्मकालीन गहरी जुताई करें एवं उचित फसल चक्र अपनाएं । बीज की बुवाई नवम्बर के प्रथम से द्वितीय सप्ताह में करें । बुवाई के पूर्व बीजों को कार्बेन्डिजम 50 डब्ल्यू पी 3 ग्रा./कि.ग्रा. या ट्रायकोडरमा विरडी 5 ग्रा./कि.ग्रा. बीज की दर से उपचारित कर बुवाई करें । उकठा के लक्षण दिखाई देने पर कार्बेन्डाजिम 50 डब्ल्यू पी 2.0 ग्रा./ली. या हेक्जाकोनोजाॅल 5 ईसी 2 एमएल/ली. या मेटालेक्जिल 35 प्रतिशत 1 ग्रा./ली या मेटालेक्जिल $ मेंकोजेब 72 एम जेड @ 2 ग्रा./ली. दवा का छिड़काव कर जमीन को तर करें । इस उत्पाद की खरीदारी के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/productdetails?skuCode=AGS-CP-337 क्लिक करें। खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी क्लिक ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 करें।
स्रोत- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, यदि आपको आज के सुझाव में दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक👍करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
6
1
संबंधित लेख