कृषि वार्तान्यूज18
जानिए, जनधन खाते को आधार से लिंक करने से कैसे मिलेंगे 5000 रुपये!
👉प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत देश के गरीबों का खाता जीरो बैलेंस पर बैंक, पोस्ट ऑफिस और राष्ट्रीयकृत बैंको में खोला जाता है। प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत खुलवाए गए खातों में ग्राहकों को कई सुविधाएं दी जाती हैं। अगर आपके खाते में बैलेंस नहीं है उसके बाद भी आप 5 हजार रुपए निकाल सकते हैं। आइये आज आपको बताते हैं कि इस खाते के साथ कौन-कौन सी आकर्षक सुविधाएं मिलती हैं, और ये खाता कैसे खोला जाता है। ध्यान देने वाली बात ये भी है कि इस अकाउंट के साथ मिलने वाली सुविधाओं का लाभ उन्हीं लोगों को मिलेगा, जिनका खाता आधार से लिंक होगा। 👉इस तरह मिलती है 5 हजार रुपए निकालने की सुविधा:- प्रधानमंत्री जन धन अकाउंट पर ग्राहकों को 5000 रुपए की ओवरड्राफ्ट सुविधा मिलती है। ओवरड्राफ्ट की सुविधा का फायदा लेने के लिए आधार कार्ड होना जरूरी है। इसके अलावा PMJDY अकाउंट आधार कार्ड से लिंक भी होना चाहिए। इस योजना के तहत पीएम श्री मोदी का उद्देश्य हर परिवार के लिए एक बैंक खाता खोलने का था। जनधन योजना के तहत आप 10 साल से कम उम्र के बच्चे का खाता भी खुलवा सकते हैं। 👉जानिए क्या है ओवरड्राफ्ट सुविधा:- ओवरड्राफ्ट सुविधा वह सुविधा है जिसके तहत अकाउंट होल्डर अकाउंट से तब भी पैसा निकाल सकता है, जब उसके अकाउंट में कोई पैसा नहीं हो। यानी की खाताधारक के खाते का बैलेंस शुन्य हो। अगर किसी प्रधानमंत्री जन धन अकाउंट को आधार कार्ड से लिंक नहीं किया गया है, तो उस अकाउंट पर ओवरड्राफ्ट सुविधा का लाभ नहीं मिल सकेगा। 👉ओवरड्राफ्ट सुविधा लेने की शर्त:- इस सुविधा का लाभ लेने के लिए अकाउंट होल्डर को पहले 6 महीने तक खाते में पर्याप्त पैसे रखने होते हैं और इस दौरान उन्हें समय-समय पर इस अकाउंट से लेनदेन भी करते रहना चाहिए। ऐसे अकाउंट होल्डर्स को रुपे डेबिट कार्ड जारी किया जाता है, जिसके इस्तेमाल से लेनदेन के लिए आसानी से किया जा सकता है। 👉खाता खोलने के लिए इन डाक्यूमेंट्स का होना जरूरी:- आधार कार्ड या पासपोर्ट या ड्राइविंग लाइसेंस या पैन कार्ड, वोटर कार्ड, नरेगा जॉब कार्ड, अथॉरिटभ्कि से जारी लेटर, जिसमें नाम, पता और आधार नंबर लिखा हो, गजेटेड आफिसर द्वारा जारी लेटर जिसपर खाता खुलवाने का अटेस्टेड फोटो लगा हो। 👉नया खाता खोलना के लिए करना होगा ये काम:- अगर आप अपना नया जनधन खाता खोलना चाहते हैं तो नजदीकी बैंक में जाकर आसानी से ये काम कर सकते हैं। इसके लिए बैंक में आपको एक फॉर्म भरना होगा। उसमें नाम, मोबाइल नंबर, बैंक ब्रांच का नाम, आवेदक का पता, नॉमिनी, व्यवसाय/रोजगार और वार्षिक आय व आश्रितों की संख्या, एसएसए कोड या वार्ड नंबर, विलेज कोड या टाउन कोड आदि की जानकारी देनी होगी। स्रोत-न्यूज़ 18, प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक👍करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।
24
1
संबंधित लेख