सलाहकार लेखउत्तर प्रदेश कृषि विभाग
धान में ऐसे करें चूहों का नियंत्रण!
किसान भाइयों धान की फसल चूहों द्वारा बहुत प्रभावित होती है, जिनमें खेत का चूहा, मुलायम बालों वाला खेत का चूहा आदि मुख्य चूहे की हानिकारक प्रजातियॉ हैं। चूहों के नियंत्रण के उपाय:- 1- इनके नियंत्रण हेतु खेतों की निगरानी एवं जिंकफास्फाइड 80 प्रतिशत का प्रयोग करना चाहिए तथा नियंत्रण का साप्ताहिक कार्यक्रम निम्न प्रकार सामूहिक रूप से किया जाय तो अधिक सफलता मिलती है। पहला दिन:- खेत की निगरानी करें तथा जितने चूहे के बिल हो उसे बन्द करते हुए पहचान हेतु लकड़ी के डन्डे गाड़ दें। दूसरा दिन:- खेत में जाकर बिल की निगरानी करें जो बिल बन्द हो वहॉ से गड़े हुए डन्डे हटा दें। जहॉ पर बिल खुल गये हों वहॉ पर डन्डे गड़े रहने दें। खुले बिल में एक ग्राम सरसों का तेल एवं 48 ग्राम भुने हुए दाने में जहर मिला कर रखें। तीसरा दिन:- बिल की पुनःनिगरानी करें तथा जहर मिला हुआ चारा पुनःबिल में रखें। चौथा दिन:- जिंक फास्फाइड 80 प्रतिशत की 1.0 ग्राम मात्रा को 1.0 ग्राम सरसों के तेल एवं 48 ग्राम भुने हुए दाने में बनाये गये जहरीले चारे का प्रयोग करना चाहिए। पांचवा दिन:- बिल की निगरानी करें तथा मरे हुए चूहे को जमीन में खोद कर दबा दें। छठा दिन:- बिल को पुनः बन्द कर दें तथा अगले दिन यदि बिल खुल जाये तो इस साप्ताहिक कार्यक्रम को पुनः अपनायें।
स्रोत:- उत्तर प्रदेश कृषि विभाग , प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
7
1
संबंधित लेख