एग्री डॉक्टर सलाहकिसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग मध्यप्रदेश
कपास की चुनाई के समय रखी जाने वाली सावधानियां!
कपास की चुनाई प्रायः ओस सूखन के बाद ही करनी चाहिए। अविकसित, अधखिले या गीले घेटों की चुनाई नहीं करनी चाहिए। चुनाई करते समय कपास के साथ सूखी पत्तियाँ, डण्ठल, मिट्टी इत्यादि नहीं आना चाहिए। चुनाई पश्चात् कपास को धूप में सुखा लेना चाहिए क्योंकि अधिक नमी से कपास में रूई तथा बीज दोनों की गुणवत्ता में कमी आती है। कपास को सूखाकर ही भंडारित करें क्योंकि नमी होने पर कपास पीला पड़ जायेगा व फफूंद भी लग सकती हैं।
स्रोत:- किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग मध्यप्रदेश, यदि आपको आज के सुझाव में दी गई जानकारी उपयोगी लगे, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
15
1
संबंधित लेख