सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
आइये जानते हैं, चिपचिपे जाल लगाने के फायदे!
किसान भाइयों फसलों में विभिन्न प्रकार के रस चूसक कीटों का प्रकोप देखा जाता है, ऐसे में किसान कीटनाशक का प्रयोग करते हैं, जो कि फसल और पर्यावरण दोनों के लिए नुकसानदायक होता है। ऐसे में चिपचिपे जाल के इस्तेमाल से फसलों में होने वाले नुकसान से बचा जा सकता है। "रासायनिक दवाओं से कीट नियंत्रण में कई तरह की दिक्कतें आती हैं, जिसमें कृषि पर्यावरण को कई तरह के नुकसान होते हैं। जबकि स्टिकी ट्रैप के इस्तेमाल से किसान इन सभी दिक्कतों से बच सकते हैं।" चिपचिपे जाल कई तरह की रंगीन शीट होती हैं जो फसल को नुकसान पहुंचाने वाले कीटों को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए खेत में लगाई जाती है। इससे फसलों पर आक्रमणकारी कीटों से रक्षा हो जाती है और खेत में किस प्रकार के कीटों का प्रकोप चल रहा है इसका सर्वे भी हो जाता है। साथ ही प्रभावी लागत, इन्सटाल करना आसान, समय बचाने वाला, श्रम की बचत, प्रभावी नियंत्रण, बेहतर फसल की गुणवत्ता, उपज में वृद्धि। कैसे काम करता है स्टिकी ट्रैप हर कीट किसी विशेष रंग की ओर आकर्षित होता है। अब अगर उसी रंग की शीट पर कोई चिपचिपा पदार्थ लगाकर फसल की ऊंचाई से करीब एक फीट और ऊंचे पर टांग दिया जाए तो कीट रंग से आकर्षित होकर इस शीट पर चिपक जाता है। फिर यह फसल को नुकसान नहीं पहुंचा पाते हैं। किसानों के लिए लाभ कीटों का समय पर पता लगाने के लिए। कीट प्रकोप के जोखिम को कम करने के लिए। हॉट स्पॉट की पहचान करने के लिए। छिड़काव के समय व्यवस्थित करने के लिए। इसकी खरीदी करने के लिए ulink://android.agrostar.in/productdetails?skuCode=AGS-CP-117 क्लिक करें।
स्रोत:-एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस , प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
12
1