कृषि वार्ताद इकोनॉमिक टाइम्स
किसान निकायों और ई-राष्ट्रीय कृषि बाजार के एकीकरण के लिए सरकार तेजी सेउठा रही है कदम
सरकार तेजी से किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) और गोदामों के साथ ई-राष्ट्रीय कृषि बाजार (ईएनएएम) के एकीकरण पर नज़र रख रही है, जिन्हें किसानों के लिए एंड-टू-एंड कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए मार्केट यार्ड के रूप में घोषित किया गया है। हम मंडी परिसर के बाहर बाधा मुक्त अंतरराज्यीय और अंतर्राज्यीय व्यापार को बढ़ावा देना चाहते हैं। इसके लिए हमें किसानों और किसान समूहों के लिए रसद सहायता और बाजार की जानकारी प्रदान करने की आवश्यकता है। एक वरिष्ठ कृषि मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि एफएनए और गोदामों के साथ ई नैम और किसान रथ के एकीकरण से किसान अपनी उपज को देश में कहीं भी बेच और परिवहन कर सकेंगे।  उन्होंने कहा कि सरकार की योजना अगले पांच वर्षों में 10,000 एफपीओ बनाने की है जो पूरी तरह से ई नैम  के साथ एकीकृत होगी। इस साल हमें 1500 से अधिक नए एफपीओ की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म और किसान रथ के साथ एकीकृत किया जाएगा। अधिकारी ने कहा कि ईएनएएम के साथ एफपीओ का एकीकरण किसानों के लिए बाजार की जानकारी प्रदान करेगा ताकि वे अपनी उपज को बेहतर कीमतों पर बेच सकें। चूंकि देश भर में 1,000 से अधिक मंडियां पहले से ही ईएनएएम प्लेटफॉर्म पर हैं, इसलिए किसान देश के विभिन्न हिस्सों में विशिष्ट वस्तुओं की कीमत का पता लगा सकेंगे। किसानों के पास देश में कहीं भी अपनी उपज बेचने के लिए लचीलापन होगा। फिर उसके बाद वे उचित मूल्य पर अपनी उपज का परिवहन करने के लिए किसान रथ ऐप पर ट्रक या ट्रैक्टर बुक कर सकते हैं।
स्रोत- द इकोनॉमिक टाइम्स  प्रिय किसान भाइयों दी गयी योजना की  जानकारी को लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद। 
51
0
संबंधित लेख