एग्री डॉक्टर सलाहकृषि विभाग उत्तर प्रदेश
मेंथा में पत्ती धब्बा रोग एवं पत्ती लपेटक कीट का नियंत्रण
किसान भाइयों मेंथा हमारी एक महत्वपूर्ण नकदी फसल है आज इस लेख के माध्यम से हम मेंथा की फसल में लगने वाले पत्ती धब्बा रोग एवं पत्ती लपेटक कीट के नियंत्रण के बारे में जानेंगे। *पर्णदाग या पत्ती धब्बा रोग*इस रोग में पत्तियों पर गहरे भूरे रंग के धब्बे दिखाई पड़ते हैं। इससे पत्तियां पीली पड़कर गिरने लगती हैं। इस रोग के निदान के लिए मैंकोजेब 75 डब्लू पी नामक फफूंदीनाशक की 800 ग्राम मात्रा को  200 से 300  लीटर पानी में मिलाकर प्रति एकड़  की दर से छिड़काव करें।*पत्ती लपेटक कीट*इसकी सूड़ियां(इल्ली) पत्तियों को लपेटते हुए खाती हैं। इसकी रोकथाम के लिए मोनोक्रोटोफास 36 ई०सी० 400 मिली० प्रति एकड़ की दर से 250 लीटर पानी में घोल बनाकर छिड़काव करें।
स्रोत- कृषि विभाग उत्तर प्रदेश, प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
4
0
संबंधित लेख