एग्री डॉक्टर सलाहकृषि विज्ञान केंद्र सहारनपुर
धान की फसल में सूत्रकृमि का नियंत्रण!
धान की फसल में सूत्रकृमि से बचाव के लिए धान लगाने से पहले ही प्रबंधन शुरू हो जाता है। इसके लिए खेत में ढैंचा उगाकर उसे मिट्टी में अच्छी तरह से मिला देने से निमेटोड की संख्या में कमी आ जाती है। इसके साथ ही नीम की खली या सरसों की खली 225 किलो प्रति हेक्टेयर के हिसाब से प्रयोग करने से अच्छा उत्पादन भी मिलता है और निमेटोड की संख्या में भी कमी आ जाती है। फसल में लक्षण दिखाई देने पर पैसिलोमिस लीलसिनस कवक निमेटोड के प्रकोप के अनुसार एक-दो लीटर प्रति एकड़ के हिसाब से सड़ी हुई गोबर की खाद में मिलाकर शाम को खेत में बिखेर दें, इससे भी निमेटोड को नियंत्रित किया जा सकता है।
स्रोत:- कृषि विज्ञान केंद्र सहारनपुर, किसान भाइयों यदि आपको दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें एवं अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
3
1
संबंधित लेख