एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
इनके प्रयोग से धान की फसल रहेगी निरोग!
किसान भाइयों, जिंक की कमी के चलते धान फसल की पत्तियां पीली पड़ जाती हैं। साथ ही उसपर कत्थई रंग के धब्बे दिखाई पड़ने लगते हैं। पौधा बौना रह जाता है और पौधे में कल्लों का फुटाव भी कम होता है। इसकी रोकथाम के लिए फसल पर 2 किलो ज़िंक सल्फेट एव 1 किलो बुझे चुने के साथ 400 लीटर पानी में मिलाकर प्रति एकड़ के हिसाब से छिड़काव करना चाहिए।
स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, दी गई जानकारी को लाइक करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें !
32
2
संबंधित लेख