सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
अरंडी फसल का उचित जमाव, स्वस्थ वृद्धि के लिए उपयोगी!
अरंडी फसल का उचित जमाव एवं स्वस्थ वृद्धि के लिए हमें सर्वप्रथम बुवाई पूर्व ट्रिकोडर्मा विरडी @ 5 ग्राम प्रति किलोग्राम बीज के हिसाब से बीजोपचार कर बुवाई करें। जिससे फफूंदी जनित रोगों से बचाव होगा। साथ ही बुवाई पूर्व खेत में खाद एवं उर्वरकों की संतुलित मात्रा का उपयोग करें। असिंचित अवस्था में 12 टन गोबर खाद/हेक्टेयर, नाइट्रोजन 60 किलोग्राम, फास्फोरस 30 किलोग्राम, पोटास 30 किलोग्राम प्रति हेक्टेयर देना चाहिए। सिंचित अवस्था में 12 टन गोबर खाद/हेक्टेयर, नाइट्रोजन 120 किलोग्राम, फास्फोरस 30 किलोग्राम, पोटास 30 किलोग्राम प्रति हेक्टेयर देना चाहिए। एवं अरंडी को मेढ़ो पर बुवाई करना चाहिए। जिससे विभिन्न रोगों से बचा जा सकता है। एवं सिंचाई करने में आसानी होती है।
स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
16
1
संबंधित लेख