एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
मक्का की फसल में माहू कीट का नियंत्रण!
यह कीट मक्का की फसल से पत्तियों का रस चूसकर फसल को नुकसान पहुंचते हैं। यह कीट हरे काले रंग के झुन्डों में रहते है। इस कीट का आक्रमण फूल के समय अधिक होता है तथा ये कोमल भागों का रस चूसकर नुकसान पहुंचाते है। रस चूसने से पत्तियां पीली पड़ जाती है तथा पराग भी झड़ता है। जिसकी वजह से हमें अच्छा उत्पादन नहीं मिलता है। इसके नियंत्रण के लिए पानी की कमी की स्थिति न आने दें। खेत का समय समय पर निरीक्षण करें। नियंत्रण के उपाय शुरूवात की अवस्था में करें। थियामेथोक्साम 12.60% + लैंबडा-सायलोथ्रिन 09.50% जेड.सी. @ 50 मि.ली. 200 लीटर पानी के साथ प्रति एकड़ छिड़काव करें।
स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
21
0
संबंधित लेख