कृषि वार्ताकृषि जागरण
खरीफ फसलों के लिए 5000 करोड़ नकदी की व्यवस्था करेगा नाबार्ड!
नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट ने खरीफ की खेती के लिए पूरे देश में किसानों को नकदी की व्यवस्था करने के लिए 5000 करोड़ रुपए का फंड मंजूर किया है। चक्रवाती तूफान अंफान से पश्चिम बंगाल में कृषि की व्यापक क्षति हुई थी। इसलिए नाबार्ड बंगाल को अतिरिक्त 1070 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद करेगा। 5000 हजार करोड़ रुपए देश भर में ऋण के तौर पर सहकारी बैंक, ग्रामीण बैंक, माइक्रो फायनांस संस्था और एनबीएफसी के मार्फत किसानों को वितरित किए जाएंगे। नाबार्ड अभी खरीफ के मौसम में 276 करोड़ रुपए जारी कर चुका है। पश्चिम बंगाल में नाबार्ड के मुख्य महा प्रबंधक सुब्रत मंल ने बैंक के 59 वर्ष पूरे होने पर आयोजित एक समारोह में भाग लेने के बाद यह बातें कही। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कारण कर्जदारों से छह माह तक के लिए किस्त वसूलने पर रोक लगा दी गई है। इससे किसानों को राहत मिलेगी। खरीफ मौसम में किसानों को खेती के लिए नकदी का अभाव न हो इसके लिए नाबार्ड ने 5000 हजार करोड़ रुपए मंजूर किए है। यह राशि देश भर के किसानों में कर्ज के तौर पर विभिन्न वित्तीय संस्थाओं के मार्फत वितिरत की जाएगी। देश में किसान क्रेडिड देने के लिए 2 लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इससे देश भर में ढाई करोड़ किसान लाभान्वित होंगे। कर्ज के तौर पर ही सही नाबार्ड के मार्फ्त पूरे देश किसानों के पास 5000 हजार करोड़ रुपए की राशि जाएगी तो खरीफ की खेती करने में उन्हें विशेष मदद मिलेगी। स्रोत:- कृषि जागरण,15 जुलाई 2020, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी यदि आपको उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
13
0
संबंधित लेख