कृषि वार्ताकृषि जागरण
KCC स्कीम: 7 करोड़ किसानों को 4% की जगह 7% देना पड़ सकता है ब्याज!
देश के 7 करोड़ से अधिक किसान क्रेडिट कार्ड धारकों के लिए जरूरी खबर है। दरअसल अगर 48 दिन के अंदर जिन किसानों ने KCC Scheme के तहत लोन लिया है उन्होंने पैसा वापस नहीं किया तो उन्हें 4 फीसदी की जगह 7 फीसदी ब्याज देना पड़ेगा। गौरतलब है कि खेती-किसानी के लिए गए लोन पर केंद्र सरकार ने 31 अगस्त तक पैसा जमा करने की मोहलत दी है। इसके अंदर पैसा अगर किसान पैसा जमा करेंगे 4 फीसदी ब्याज लगेगा जबकि बाद में 7 फीसदी की दर पर वापस होगा। सरकार द्वारा लॉकडाउन में दी गई मोहलत जैसा कि सर्वविदित है कि किसान क्रेडिट कार्ड पर लिए गए लोन को 31 मार्च तक वापस करना होता है। उसके बाद किसान फिर अगले वित्तीय वर्ष तक के लिए पैसा ले सकता है। जो किसान समझदार हैं वो समय पर पैसा जमा करके ब्याज में छूट का लाभ उठा लेते हैं। दो-चार दिन बाद फिर से पैसा निकाल लेते हैं। इस तरह बैंक में उनका रिकॉर्ड भी ठीक रहता है और खेती के लिए पैसे की कमी भी नहीं पड़ती। 2.5 करोड़ किसानों को क्रेडिट कार्ड देने की योजना सरकार ने पीएम किसान योजना का लाभ उठा रहे 2.5 करोड़ किसानों को क्रेडिट कार्ड देने का फैसला किया है। क्रेडिट कार्ड से मिलने वाले कर्ज की ब्याज दर काफी कम होगी। सरकार इस वित्त वर्ष में 2 लाख करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज किसानों को बांटने जा रही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक पैकेज के तहत इसका ऐलान किया था। किसान क्रेडिट कार्ड योजना से किसानों की मदद किसान क्रेडिट कार्ड वास्तव में जरूरत के समय आपके कुछ जरूरी घरेलू खर्चों को पूरा करने में आपकी मदद कर सकता है। हालांकि, केसीसी योजना जो छोटे ऋणों के लिए किसानों को ऋण प्रदान करती है, मुख्य रूप से फसलों से संबंधित उनकी वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए है। लेकिन, इसका कुछ हिस्सा अब उनके द्वारा घरेलू जरूरतों को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। किसान क्रेडिट कार्ड का घरेलू जरूरतों में मदद? घरेलू उपयोग के लिए केसीसी योजना के तहत अल्पावधि सीमा के 10% का उपयोग किसान कर सकते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी वित्तीय शिक्षा (किसानों के लिए) अनुभाग के तहत इस संबंध में अपनी वेबसाइट पर जानकारी डाल दी है। दरअसल भारतीय रिजर्व बैंक ने जानकारी देते हुए कहा है कि कुल राशि का 10 फीसदी किसान घर में भी कर सकते हैं। स्रोत:- कृषि जागरण,15 जुलाई 2020, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी यदि आपको उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
44
1
संबंधित लेख