सलाहकार लेखकृषि जागरण
फसलों में मिनी स्प्रेयर के फायदे!
खेतों में उगाई गई फसलों को कीट और रोगों से बचाने के लिए विभिन्न प्रकार के कीटनाशक का छिड़काव किया जाता है। यह छिड़काव कई कृषि यंत्रों द्वारा किया जा सकता है। इससे फसलों में अच्छी तरह कीटनाशक पहुंच जाता है, साथ ही किसानों के समय की बचत होती है और लागत भी कम लगती है। आजकल बाजार में फसलों में कीटनाशक छिड़कने के लिए कई कृषि यंत्रों का निर्माण किया जा रहा है। मगर कई छोटे किसान इन कृषि यंत्रों को आर्थिक तंगी के कारण खरीद नहीं पाते हैं। ऐसे में हम छोटे किसानों के लिए एक ऐसा टिकाऊ, सस्ता और उपयोगी कृषि यंत्र की जानकारी लेकर आए हैं, जिसके द्वारा किसान अपनी फसलों में आसानी से कीटनाशक का छिड़काव कर सकते हैं। इसकी कीमत भी बहुत ही सस्ती है, जिसको छोटे किसान आसानी से खरीद सकते हैं। हम मिनी स्प्रेयर की बात कर रहे हैं, तो आइए छोटे किसानों को मिनी स्प्रेयर संबंधी कुछ ज़रूर जानकारी देते हैं। क्या है मिनी स्प्रेयर इस स्प्रेयर को हाथ से संचालित किया जाता है। इस कारण छोटे किसानों के लिए बहुत उपयोगी माना जाता है। मिनी स्प्रयर में न तो इंजन का खर्चा आता है और न ही बिजली का। यही कारण है कि छोटे किसान आसानी से इनका उपयोग कर सकते हैं। बाजार में मिनि स्प्रेयर की कीमत मिनि स्प्रेयर कई तरह के आते हैं, जो कि 1.2 लीटर से 5 लीटर में उपलब्ध होते हैं। किसान अपनी उपयोगिता के हिसाब से मिनि स्प्रेयर खरीद सकते हैं, वो भी बहुत ही सस्ती कीमत में। बाजार में अलग-अलग कंपनी मिनी स्प्रेयर का निर्माण करती हैं। इनकी कीमत भी अलग-अलग तय की जाती हैं। मोहिन्द्र मिनी स्पैयर 2 लीटर 120 रुपए में खरीद सकते हैं। स्पैरमैन मिनी स्पैयर 1 लीटर 150 रुपए में खरीद सकते हैं। स्पाइयरमैन मिनी स्पायर 5 लीटर 200 रुपए में मिल जाएगा। स्पाइयरमैन मिनी स्पायर 5 लीटर 200 रुपए में मिल जाता है। मोहिन्द्र मिनी स्पैयर 3 लीटर 400 रुपए में उपलब्ध है। इसके अलावा स्पाइयरमैन मिनी स्पैयर- 5 एलटीआर 500 रुपए में उपल्ब्ध है। स्पैरमैनैनैन मिनी स्पैयर 5 लीटर का 850 रुपए में उपलब्ध है। अगर कोई किसान उपयुक्त मिनी स्प्रेयर को खरीदना चाहते हैं, तो वह अपने क्षेत्र की निजी कंपनियों से संपर्क कर सकते हैं, जो कि कृषि यंत्रों का निर्माण करती हैं। इसके द्वारा फसलों में कीटनाशक का छिड़काव करना बेहद आसान हो जाता है।
स्रोत:- कृषि जागरण, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
37
3
संबंधित लेख