सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
प्रकाश प्रपंच द्वारा फसलों का कीटों से बचाव!
प्रकाश प्रपंच या लाइट ट्रैप के द्वारा फसलों को कीटों से बचाने के लिए लाइट ट्रैप (जाल) का इस्तेमाल फसल में उपयोगी साबित हो रहा है। कृषि वैज्ञानिकों ने इस तकनीक का उपयोग कर फसलों के लिए विभिन्न हानिकारक कीटो पर नियंत्रण पाने के लिए सभी किसानों को इसका उपयोग करने की सलाह दी है। लाइट ट्रैप का मुख्‍यत: रात्रि के समय उड़ने वाले कीटों के लिए प्रयोग किया जाता है, रात्रि के समय प्रकाश की ओर आकर्षित होने वाले कीट प्रकाश की तरफ आकर्षित होकर जाल के नीचे पानी भरे टब या जाल में फंस जाते हैं। जिन्हे प्रति दिन बाहर निकालकर कर नष्ट कर दिया जाता है। यह फसलों में कीटों की निगरानी के लिए एक प्रमुख यंत्र है । फसलों में आर्थिक नुकसान पहुंचाने वाले कीटों के प्रकोप को जानने और उसके नियंत्रण के लिए यह सहायक यंत्र है । इसका प्रयोग हम विभिन्न फसलों में जैसे, टमाटर में फल छेदक कीट, बैगन में फल छेदक कीट, सोयाबीन में चने की इल्ली, तम्बाकू की इल्ली कीट, मूंगफली में लाल बालों वाली सूंडी का वयस्क कीट, लीफ माइनर कीट, सफ़ेद सुंडी का वयस्क कीट, मक्का में तना छेदक कीट, धान में पत्ती लपेटक कीट, तना छेदक कीट, गन्ना की फसल में अगोला छेदक, पाइरिला कीट, सफ़ेद सूंडी वयस्क कीट आदि फसलों में कीट नियंत्रण के लिए प्रयोग कर सकते हैं।
स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, यहां दी गई जानकारी यदि आपको उपयोगी लगे, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
89
0
संबंधित लेख