कृषि वार्ताकृषि जागरण
आइये जानते हैं, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लाभ और कैसे आसानी से इसके लिए आवेदन कर सकते हैं?
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना केंद्र सरकार की योजना है, जो किसानों को बेमौसम या अत्यधिक वर्षा के कारण फसल के नुकसान के लिए ब्याज के साथ मुआवजा देती है। प्राकृतिक आपदाओं से प्रभावित किसानों की मदद करने या मौसम में अचानक बदलाव के उद्देश्य से, सरकार ने वर्ष 2016 में योजना शुरू की थी। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसलों के बीमा के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2020 है। जो ऋणी कृषक बीमा सुविधा का लाभ नहीं उठाना चाहते हैं, वे अपनी शाखा को अंतिम तिथि से एक सप्ताह पहले लिखित रूप से सूचित करें। गैर ऋणी किसान सीएससी, बैंक, एजेंट या बीमा वेबसाइट के माध्यम से फसल बीमा स्वयं कर सकते हैं। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लाभ:- भूमि के नुकसान, तूफान, जलभराव, बादल फटने से हुए नुकसान को PMFBY से कवर किया जाता है। यदि प्रतिकूल मौसमी परिस्थितियों के कारण किसान फसलों की बुवाई करने में सक्षम नहीं हैं तो इस योजना का लाभ भी दिया जाता है। इस फसल बीमा योजना के तहत किसानों को बहुत कम प्रीमियम दर का भुगतान करना पड़ता है। PMFBY के तहत, प्रौद्योगिकी के उपयोग को काफी हद तक प्रोत्साहित किया गया है। रिमोट सेंसिंग ड्रोन, स्मार्टफोन और जीपीएस तकनीक का इस्तेमाल क्लेम भुगतान में देरी को कम करने के लिए फसल कटाई के आंकड़ों को इकट्ठा करने और अपलोड करने के लिए किया जा रहा है। फसल बीमा के लिए आवेदन कैसे करें PMFBY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं - https://pmfby.gov.in/ होमपेज पर 'किसान कॉर्नर' देखें और इसे क्लिक करें सभी आवश्यक विवरणों को ठीक से भरें यदि आप पहले से पंजीकृत हैं तो आप इस योजना के तहत दाखिला लेने के लिए आगे बढ़ सकते हैं। नए किसान पंजीकरण के लिए सीधा लिंक स्रोत:- कृषि जागरण, 27 जून 2020 प्रिय किसान भाइयों आज की कृषि वार्ता दी गई जानकारी यदि आपको उपयोगी लगे, तो इसे लाइक करें और अपने सभी किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
45
0
संबंधित लेख