सलाहकार लेखकृषि विभाग उत्तर प्रदेश
मक्का की फसल में दीमक का नियंत्रण!
मक्का की फसल में दीमक के नियंत्रण के निम्न उपाए अपनाने चाहिए -_x000D_ खेत में कच्चे गोबर का प्रयोग नहीं करना चाहिए।_x000D_ फसलों के अवशेषों को नष्ट कर देना चाहिए।_x000D_ नीम की खली 10 कुन्तल प्रति हेक्टेयर की दर से बुवाई से पूर्व खेत में मिलाने से दीमक के प्रकोप में कमी आती है।_x000D_ बुवेरिया बैसियाना 1.15 प्रतिशत बायोपेस्टीसाइड (जैव कीटनाशी) की 2.5 किग्रा0 प्रति हेक्टेयर 60-75 किग्रा गोबर की खाद में मिलाकर हल्के पानी का छींटा देकर 8-10 दिन तक छाया में रखने के उपरान्त बुवाई के पूर्व आखिरी जुताई पर भूमि में मिला देने से दीमक कीटों का नियंत्रण हो जाता है।_x000D_ रसायनिक नियंत्रण के लिए यदि कीट का प्रकोप आर्थिक क्षति स्तर पार कर गया हो तो निम्नलिखित कीटनाशकों का प्रयोग करना चाहिए। क्लोरोपाइरीफॉस 20 ईसी @ 2.5 लीटर प्रति हेक्टेयर की दर से सिंचाई के पानी के साथ प्रयोग करना चाहिये।
स्रोत:- कृषि विभाग, उत्तर प्रदेश यदि आपको दी गई जानकारी उपयोगी लगे, तो लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
7
0
संबंधित लेख