आज का सुझावएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
तिल की खेती में संतुलित उर्वरकों का प्रयोग!
उर्वरकों का प्रयोग भूमि परीक्षण के आधार पर करना चाहिए। यदि परीक्षण न कराया गया हो तो 30 किग्रा. नत्रजन, 20 किग्रा. फास्फोरस तथा 20 किग्रा. गन्धक प्रति हेक्टेयर की दर से प्रयोग करें। राकड़ तथा पथरीली भूमि में 20 किग्रा. पोटाश प्रति हेक्टेयर का भी प्रयोग करें। नत्रजन की आधी मात्रा एवं फास्फोरस व पोटाश तथा गंधक की पूरी मात्रा, बुवाई के समय बेसल ड्रेसिंग के रूप में तथा नत्रजन की शेष मात्रा निराई गुड़ाई के समय प्रयोग करना चाहिए।
20
0
संबंधित लेख