सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
बैंगन की फसल में एकीकृत कीट प्रबंधन!
बैंगन की फसल में एकीकृत कीट प्रबंधन खेत को साफ सुथरा रखें। जिस खेत में बैंगन की फसल पिछले वर्ष ली हो उसमें बैंगन कदापि न लगाएं। बैंगन की दो कतारों के बाद एक कतार धनिया या सौंफ की लगाएं। रोपाई के 2 सप्ताह बाद फेरोमोन ट्रैप 4 से 5 प्रति एकड़ लगाएं यदि आवश्यक लगे तो 10 से 12 फेरोमोन ट्रैप प्रति एकड़ 10–10 मीटर की दूरी पर लगाएं तथा ल्योर को 15 दिन उपरांत बदलते रहे और रोग ग्रस्त टहनियों को काटकर गड्ढे में दबा दें। ट्राईकोकार्ड 1 प्रति एकड़ 21 दिन उपरांत 4–5 मीटर की दूरी पर फसल के अंत तक लगाते रहे। तीन किलो सडी गोबर की खाद में 250 ग्राम ट्राइकोडर्मा विरडी मिलाकर पौधों के संवर्धन के लिए लगभग सात दिनों के लिए छोड़ दें। सात दिनों के बाद मिट्टी में 3 वर्ग मीटर के बेड में मिला दें। F1-321 जैसे लोकप्रिय संकरों की बेड में बुवाई जुलाई के पहले हफ्ते में होनी चाहिए। बुवाई से पहले, बीज को ट्राइकोडर्मा विरडी 4 ग्राम/किलोग्राम बीज की दर से उपचार किया जाना चाहिए। निराई समय-समय पर की जानी चाहिए और संक्रमित पौधों को नर्सरी से बाहर कर देना चाहिए।
स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस यदि आपको दी गई जानकारी उपयोगी लगे तो, लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
29
0
संबंधित लेख