आज का सुझावAgroStar एग्री-डॉक्टर
भिंडी की फसल में माहू कीट का नियंत्रण
माहू कीट के शिशु तथा प्रौढ़ दोनों ही भिंडी फसल के पौधों के कोमल भागों, फूलों-पत्तियों से रस चूसते है। जिससे पौधों की बढ़वार रूक जाती है, पत्तियाँ मुरझा जाती है तथा पीली पड़ जाती है, अधिक आक्रमण पर तो पत्तियाँ गिर भी जाती है। संक्रमित भाग पर ये कीट एक लसलसा पदार्थ भी स्त्रावित करते है, जिससे फफूंद का आक्रमण बढ़ जाता है। जिससे प्रकाश संश्लेषण क्रिया में भी बाधा उत्पन्न होती है। इसके नियंत्रण के लिए इमिडाक्लोप्रिड 70.00% डब्ल्यूजी @ 14 ग्राम प्रति एकड़ छिड़काव करें।
यहां दी गई जानकारी आपको उपयोगी लगे तो, लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
6
0
संबंधित लेख