आज का सुझावएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
बैंगन की फसल पत्तियों का छोटापन!
यह बीमारी पौधों में भूरे पत्ती फुदका के द्वारा फैलती है। इस बीमारी से प्रभावित पत्ते पतले रह जाते हैं। छोटी पत्तियां भी हरी पड़ जाती हैं। प्रभावित पौधे फल नहीं दे पाते हैं। इस बीमारी की रोकथाम के लिए रोधक किस्मों का प्रयोग करें। यदि शुरूआती समय पर हमला दिखे तो प्रभावित पौधे उखाड़कर बाहर निकाल दें। फेनोबुकार्व (बीपीएमसी) 50.00% ईसी (Fenobucarb (BPMC) 50.00% EC) 1 मिली प्रति लीटर पानी के साथ छिड़काव करें।
यदि आपको यंहा दी गई जानकारी यदि आपको उपयोगी लगे तो, लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
10
0
संबंधित लेख