AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
04 Feb 20, 01:00 PM
कृषि वार्ताएग्रोवन
कोरोना वायरस की वजह से चीन को कपास का निर्यात रुका
चीन में दिन प्रतिदिन तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस की वजह से भारत की ओर से चीन को कपास का निर्यात पिछले एक सप्ताह से रुका हुआ है। इस बीच, बाजार के दबाव के कारण देश में सरकारी कपास की खरीद से राहत मिली है। बाजार की स्थिति उस कीमत पर निर्भर करती है जिस पर भारतीय कपास निगम (सीसीआई) कपास की गांठों की बिक्री करेगा। भारतीय बाजार में, गांठ (356 किलो रुई) की दर 40 हजार रुपये तक है। ये दरें पिछले दो महीनों से स्थिर हैं। जनवरी की शुरुआत से चीन को कपास निर्यात में तेजी आई है। इस वर्ष देश को लगभग 60-65 गांठों का निर्यात करने की उम्मीद है। चीन को लगभग सात लाख गांठों का निर्यात किया गया था। जैसा कि संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन के बीच व्यापार युद्ध जारी है, चीन ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के साथ और सौदे किए हैं। हालांकि, पिछले 8 से 10 दिनों में कोरोना वायरस की समस्या तेज हो गई है। इस समस्या के कारण वहां व्यापार बंद हो गया है। इसका असर गांठ और सूत आयात पर भी पड़ा है। सन्दर्भ – अग्रोवन 4 फरवरी 2020 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
59
23