कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
सूखे से निपटने के लिए झारखंड में 350 करोड़ जारी करने के निर्देश
झारखंड सरकार ने राज्य के अधिकारियों को सूखे की स्थिति से निपटने के लिए अलर्ट कर दिया है। राज्य में सूखे से निपटने के लिए 350 करोड़ रुपये जारी करने के निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव डॉ. डीके तिवारी ने मानसूनी बारिश की कमी को देखते हुए किसानों को हर स्तर की सहायता पहुंचाने का दावा किया। उन्होंने इस पर किसानों से बात कर उनकी जरूरतों को केंद्र में रखकर एक सप्ताह के अंदर रणनीति तैयार करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव ने सभी उपायुक्तों को हर जिले में दलहन और तिलहन के बीज, खाद आदि की समुचित उपलब्धता की व्यवस्था करने को कहा है। राज्य के मुख्यमंत्री ने कृषि विभाग को निर्देश दिया है कि अगर आगे भी अच्छी बारिश नहीं हुई तो किसानों को राहत पहुंचाने के लिए अभी से तैयारी रखें। आंकड़ों के अनुसार राज्य में अभी तक 45 फीसदी कम बारिश हुई है, जो पिछले वर्ष से भी कम है। इससे आठ जिलें चतरा, बोकारो, धनबाद, गोड्डा, पाकुड़, रांची, सरायकेला-खारसावां तथा खूंटी सर्वाधिक प्रभावित है। स्रोत - आउटलुक एग्रीकल्चर, 23 जुलाई 2019
खास बात यह है कि बुदेलखंड में अभी तक हल्दी की खेती को लेकर किसी भी तरह का कोई प्रयोग नहीं हुआ है। किसान देवेंद्र कुसमारिया ने बुंदेलखंड में पहली बार हल्दी की खेती की है। तीन साल पहले देवेंद्र महाराष्ट्र जलगांव के राबेर घूमने गए थे जहां पर उन्होंने हाईटैक हल्दी की खेती को देखा और कुछ मात्रा में वहां से हल्दी के बीज लेकर आए। वापस आकर उन्होंने बीज को अपने खेत में लगाया तो उनको हल्दी के बेहतर परिणाम मिले। स्रोत – कृषि जागरण, 3 जुलाई 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
4
0
संबंधित लेख