कृषि वार्ताकृषि जागरण
सब्जी की खेती के लिए 50 फीसदी ऋण
बिहार के सहरसा जिले के लोगों को सब्जी के लिए आत्मनिर्भर बनाने के लिए सहकारिता व कृषि विभाग द्वारा एक रणनीति बनाई गई है। सहकारी समितियों को मंडी निर्माण व सब्जी की खेती के लिए ऋण की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। जिसके तहत कुल लागत का 50 फीसद ऋण मिलेगा। जिसमें 25 फीसदी सब्सिडी और 25 फीसद ब्याजरहित ऋण मुहैया कराया जाएगा। जिसे सहकारी समिति के लोग 5 वर्ष के अंदर जमा कर सकते हैं। वर्तमान में नजदीक में कोई बाजार नहीं होने के कारण किसानों को इसका वो मूल्य नहीं मिल पाता है। इसी के मद्देनजर 'कृषि विभाग' ने बिहार के
कोसी क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित प्रखंडों में 'दियारा विकास योजना' के तहत सब्जी की खेती कराने की रणनीति बनाई है। इसके अंतर्गत खेतों से बाढ़ का पानी उतर जाने के बाद भिंडी, नेनुआ, करेला, खीरा, पालक, मूली आदि की खेती कराने की योजना बनाया है।_x000D_ स्रोत – कृषि जागरण, 19 फरवरी 2019
0
0
संबंधित लेख