कृषि वार्ताकृषि जागरण
नलकूप पर सरकार दे रही है 100% सब्सिडी
बिहार के छोटे और मझोले किसानों के लिए सामूहिक रूप से नलकूप (ट्यूबवेल) सरकार द्वारा दी जाएगी। इसके लिए बिहार सरकार सौ प्रतिशत अनुदान देगी। किसानों का एक समूह बनाया जायेगा। समूह में उन किसानों को शामिल किया जायेगा जो प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत ड्रीप सिंचाई पद्धति का लाभ नहीं ले पाए है।_x000D_ राज्य में कुल किसानों की 90 फीसदी आबादी लघु एवं सीमांत किसानों की है। कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार ने बताया योजना में पांच हेक्टेयर जमीन वाले किसानों का समूह बनाया जाएगा और उन्हें नलकूप उपलब्ध कराया जायेगा। इस समूह में आने वाले किसानों को इसके लिए ऑनलइन आवेदन करना होगा। कम से कम 5 हेक्टेयर तक का कलस्टर तैयार होने के बाद ही सामूहिक नलकूप की स्वीकृति मिलेगी। एक कलस्टर में कम से कम आठ किसानों का होना जरूरी है और यही किसानों का समूह भी इसकी देख-रेख करेगा।
एक नलकूप की स्थापना में 2.38 लाख रुपये खर्च होंगे। नलकूप की गहराई 208 फुट तक होनी चाहिए। अगर कलस्टर में सार्वजनिक जमीन नहीं मिलती है, तो किसान अपनी जमीन देंगे। उन्हें इस बात की शपथ लेनी होगी कि कम से कम सात साल तक कलस्टर के सभी किसान नलकूप से सिंचाई करेंगे। स्रोत - कृषि जागरण, 21 जनवरी 2019
4
0
संबंधित लेख