कृषि वार्ताकिसान समाधान
सब्सिडी पर मात्र 37,000 रुपये में लगाए अपने घर पर सोलर पैनल!
👉🏻 देश में अक्षय उर्जा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सरकार के द्वारा सौर उर्जा उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिसके तहत लोगों को सब्सिडी पर सोलर पैनल दिए जाते हैं। योजनाओं में अलग-अलग घटकों को शामिल किया गया है, इसमें ग्रिड कनेक्टेड सोलर रूफटॉप योजना भी शामिल हैं। इस योजना का क्रियान्वयन सम्पूर्ण देश में किया जा रहा है। योजना का लाभ लेकर आम लोग अपने घरों पर सोलर पैनल लगवाकर घरों की बिजली आवश्यकताओं की पूर्ती कर सकते हैं। मध्यप्रदेश में सरकार द्वारा इस वर्ष हेतु घर की छतों पर सोलर प्लांट लगवाने हेतु रेट एवं दी जाने वाली सब्सिडी तय कर दी है इच्छुक व्यक्ति योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं। योजना के तहत सोलर पैनल पर दी जाने वाली सब्सिडी 👉🏻 मध्यप्रदेश राज्य में सरकार द्वारा मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने घरेलू संयोजनों पर सोलर रूफटाप लगाने के लिये निविदा के माध्यम से रेट तय कर ठेकेदारों (एजेंसियों) को कार्य आवंटित कर दिया है। तय रेट विगत वर्षों से काफी कम हैं जो कि तीन कि.वा. तक रेट 37000/- प्रति कि.वा. तथा 3 से 10 कि.वा. तक रेट 39,800/- प्रति कि.वा. है। इसमें 3 कि.वा. तक 40 प्रतिशत तथा 3 कि.वा. से अधिक शेष भार पर 20 प्रतिशत सब्सिडी शामिल है। ग्रुप हाउसिंग सोसायटी को कॉमन सुविधा वाले संयोजन पर 500 कि.वा. तक (10 कि.वा. प्रति घर) 20 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी। किन दामों पर लगवा सकेंगे सोलर पैनल (प्लांट) मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने प्रति किलोवाट के अनुसार सोलर प्लांट के रेट तय कर दिए है, उक्त राशि में दी जाने वाली सब्सिडी शामिल है। सब्सिडी घटाकर एजेन्सी को भुगतान की जाने वाली राशि 3 kw हेतु 66,600 रूपये और 5 kw पर 1,35,320 रूपये है। कंपनी ने स्पष्ट किया है कि कम्पनी द्वारा दिये तकनीकी विवरण के कार्य के लिये उक्त राशि से अधिक भुगतान नहीं करें। 👉🏻 1 कि.वा. से ऊपर – 3 कि.वा. तक – रू. 37,000/- प्रति कि.वा. 👉🏻 3 कि.वा. से ऊपर -10 कि.वा. तक – रू. 39,800/- प्रति कि.वा. 👉🏻 10 कि.वा. से ऊपर -100 कि.वा. तक – रू. 36,500/- प्रति कि.वा. 👉🏻 100 कि.वा. से ऊपर -500 कि.वा. तक – रू. 34,900/- प्रति कि.वा. सोलर रूफटाप से होने वाले लाभ 👉🏻 अपने घर/ग्रुप हाउसिंग सोसायटी की छत/घर से लगी हुई खुली जगह पर सोलर पैनल लगाकर बिजली पर होने वाले खर्च को बचाया जा सकता है। 👉🏻 सोलर पैनल से बिजली 25 साल तक मिलेगी और इसके लगाने के खर्च का भुगतान 4-5 वर्षों में बराबर हो जाएगा। इसके बाद अगले 20 वर्षों तक सोलर से बिजली का लाभ सतत् मिलता रहेगा। 👉🏻 इससे कार्बन फुटप्रिंट कम होगा और पर्यावरण को लाभ मिलेगा। 1 कि.वा. सौर ऊर्जा के लिए लगभग 10 वर्ग मीटर की जरूरत होगी। 👉🏻 3 कि.वा. तक के सोलर प्लांट पर 40 प्रतिशत की सब्सिडी और 3 कि.वा. के बाद 10 कि.वा. तक 20 प्रतिशत की सब्सिडी भारत सरकार द्वारा मिलेगी। घर पर सोलर पैनल लगवाने हेतु कहाँ आवेदन करें 👉🏻 इच्छुक व्यक्ति जो अपने घर पर या अपनी हाउसिंग सोसाइटी में सोलर प्लांट लगवाना चाहते हैं वह ऑनलाइन मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की वेबसाईट portal.mpcz.in पर आवेदन कर सकते हैं।कंपनी द्वारा अधिकृत एजेंसी, तकनीकी विवरण, सब्सिडी व भुगतान की जाने वाली राशि की जानकारी के लिये विद्युत वितरण कंपनी के निकटतम कार्यालय पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त इच्छुक व्यक्ति मध्यप्रदेश के टोल फ्री नंबर 1912 पर या केंद्र सरकार के टोल फ्री नंबर 1800-180-3333 संपर्क कर सकते हैं। स्रोत:- किसान समाधान, 9 Nov. 2020, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक👍करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद। 👉🏻 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी क्लिक ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 करें।
67
11
संबंधित लेख