कृषि वार्ताकृषि जागरण
विश्व खाद्य दिवस के मौके पर PM Modi ने 8 फसलों की 17 जैव संवर्धित बीजों को राष्ट्र को किया समर्पित!
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर 75 रुपए का सिक्का और 8 फसलों की 17 जैव-संवर्धित किस्में लांच की। यह सभी किस्में देश के कृषि वैज्ञानिकों ने हाल ही में विकसित की है। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि ''पूरे विश्व में जो लोग कुपोषण ख़त्म करने की कोशिशें कर रहे हैं, उन्हें मैं बधाई देता हूँ। उन्होंने कहा कि कोरोना के इस मुश्किल दौर भारत कुपोषण के विरुद्ध मजबूती खड़ा है। देश का अन्नदाता, कृषि वैज्ञानिक इस आंदोलन प्रमुख आधार है। इने जहां दिन रात की अथक मेहनत के दम पर देश के अन्न भंडार भर रखें हैं, वहीं सरकार इसे देश के दूर-सुदूर अंचलों में गरीबों और जरुरतमंदों के घर तक पहुंचा रही है। साथ ही पीएम ने संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन के कार्य्रकम विश्व खाद्य को इस साल का नोबल शांति अवार्ड मिलने की बधाई दी। पीएम ने FAO को विशेष धन्यवाद देते हुए कहा कि उसने साल 2023 को इंटरनेशनल ईयर ऑफ़ मिलेट्स घोषित करने में भारत का समर्थन दिया। उन्होंने कहा कि भारत अब कुपोषण के खिलाफ दृढ़ता से खड़ा है। इसलिए देश में प्रोटीन, आयरन, जिंक जैसे पौषक तत्वों से भरपूर फसलें पैदा कर रहा है। आगे उन्होंने कहा कि पिछले कुछ सालों में देश के वैज्ञानिकों ने उन्नत बीजों की रिसर्च और विकास में अभूतपूर्व काम किया है। किसानों के पास आज अलग-अलग फसलों की 70 से अधिक जैव-संवर्धित किस्में मौजूद है। पीएम ने देश में हो रही अनाज बर्बादी पर भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि भारत में अनाज की बर्बादी एक बड़ी समस्या है। इसके चलते इसेंसियल कमोडिटीज एक्ट में बदलाव किया गया है. इससे स्थितियां बेहतर होगी। पीएम ने किसानों की तारीफ करते हुए कहा कि जहां कोरोना काल में पूरी दुनिया संघर्षरत है वहीं देश के किसानों ने पिछले वर्ष की तुलना में अधिक उत्पादन किया है। वहीं पिछले सालों के तुलना में गेहूं, चावल और दालों की रिकॉर्डतोड़ खरीदी सरकार ने की है। आइये जानते हैं पीएम ने कौनसी किस्में जारी की - गेहूं - एचआई-1633 (HI 1633), एचडी-3298 (HD-3298), डीबीडब्ल्यू-303 (DBW-303) और एमएसीएस-4058 (MACS-4058)। चावल - सीआरधान-315 (CR Dhan-315)। मक्का - एलक्यूएमएच-1 (LQMH-1), एलक्यूएमएच-3 (LQMH-3)। रागी - इसकी सीएफएमवी-1 (CFMV-1), सीएफएमवी-2 (CFMV-2) किस्में जारी की। सावा - इसकी एक किस्म सीएलएवी-1 (CLMV-1)। सरसों - पीएम-32 (PM-32) किस्म जारी की। मूंगफली - मूंगफली की गिरनार-4 (Girnar-4), गिरनार-5 (Girnar-5) किस्में। रतालू - डीए-340 (DA-340) एवं श्रीनीलिमा (Srin Neelima)। स्रोत-कृषि जागरण, 16 Oct 2020, प्रिय किसान भाइयों दी गयी सरकारी नौकरी की जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक👍करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।
27
3
संबंधित लेख