एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
फूलगोभी की फसल में खाद एवं उर्वरक प्रबंधन!
फूलगोभी में खाद एवं उर्वरकों का उपयोग मृदा परीक्षण के आधार पर करना चाहिए। सामान्तया खेत में 100 क्विंटल प्रति एकड़ पकी हुई गोबर कि खाद या कम्पोस्ट रोपाई के 3-4 सप्ताह पूर्व अच्छी तरह मिला देना चाहिए। इसके अतिरिक्त 50 किलोग्राम डीएपी, 50 किलोग्राम म्यूरेट ऑफ पोटाश प्रति एकड़ रोपाई के पूर्व खेत मे मिलाये। यदि मृदा में ज़िंक की कमी हो तो 10 किलोग्राम जिंक सल्फेट प्रति एकड़ रोपाई के पूर्व दें। यूरिया 35 किलोग्राम प्रति एकर रोपाई के 30 और 45 दिन बाद छिडक कर देना चाहिए। जिन मृदाओं में बोरान एवं मॉलिब्डेनम की कमी हो वहाँ पर बोरान 200 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी + मॉलिब्डेनम 50-100 ग्राम/एकड़ प्रति एकड़ 200 लीटर पानी मे घोलकर रोपाई के 30 एवं 45 दिन बाद छिडकाव करें।
यदि आपको आज के सुझाव में दी गई जानकारी उपयोगी लगे, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
8
2
संबंधित लेख