सफलता की कहानीहेलो किसान
23 वर्षीय युवा विबोरजी की सफलता की कहानी
• युवा विबोरजी जयपुर के निवासी हैं। • डॉक्टर ने देसी नस्ल की गाय के ए 2 दूध और घी की सिफारिश की और उनके अन्य फायदा भी समझाया। • विबोरजी ने एक वर्ष तक गुजरात दौरे पर जाकर गिर नस्ल की जानकारी एकत्र की। • उनके पास 80 गिर गाय हे और वे नस्ल को बेहतर बनाने के लिए काम कर रहे हैं। • विबोरजी गाड़ी से दूध हर घर में दूध बेचता हैं और शेष दूध का घी बनाता है। घी की कीमत 2,500 रुपये प्रति किलो जब की दूध 91 रु प्रति लीटर बिकता है। • देशी गाय वातावरण में आसानी से अवशोषित हो जाती हैं। • विबोरजी गायों को मौसमी हरा चारा और सूखा चारा जब की संतुलित खाद्य स्वयं बनाते हैं। • तैयार दूध और घी को बोतल में भरकर ग्राहक को भेजा जाता है। स्रोत : हेलो किसान RR - 6 ft, PP - 2 फट पंक्ति से पंक्ति - 6 फिट, पौधे से पौधे - 2 फिट
138
1
संबंधित लेख