आज का सुझावएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
गन्ना की फसल में दीमक का नियंत्रण
खड़ी फसल या बोये गये गन्ने के दोनो सिरों से घुस कर अन्दर का मुलायम भाग खाकर दीमक गन्ना को नुकसान पहुँचता है। ग्रसित पौधों की बाहरी पत्तियां पहले सूखती है तथा बाद में पूरा गन्ना नष्ट हो जाता है। ऐसे पौधों से दुर्गन्ध नही आती तथा पौधा आसानी से खिचने पर मिट्टी से उखड आता है। इसके नियंत्रण के लिए कार्टैप हाइड्रोक्लोराइड 75.00% एसजी @ 240 ग्राम को मिट्टी या खाद के साथ मिलाकर प्रति एकड़ जमीन के माध्यम से दें।
स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस यहां दी गई जानकारी आपको उपयोगी लगे तो, लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
17
0
संबंधित लेख