Looking for our company website?  
भिण्डी में सिंचाई प्रबंधन
मृदा में अंकुरण के समय पर्याप्त नमी न हो तो बुआई के तुरन्त बाद हल्की सिंचाई कर दें। अच्छी फसल प्राप्त करने के लिए आवश्यकतानुसार सिंचाई करते रहें। सिंचाई मार्च में 10-12...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
88
8
भिण्डी में खाद एवं उर्वरक उपयोग
भिण्डी की अच्छी पैदावार के लिए आवश्यक है कि गोबर की खाद के साथ-साथ उर्वरकों का भी संतुलित मात्रा में उपयोग की जाय। इसके लिए यह आवश्यक है कि पहले से ही मिट्टी की उर्वरता...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
95
7
भिण्डी में पीत शिरा रोग ( Yellow Vein Mosaic Disease) का प्रबंधन
रोगग्रसित पौधों को खेत से निकाल कर भूमि के अन्दर दबा दे तथा रोग वाहक कीट सफेद मक्खी की रोकथाम के लिए थायोमिथाक्साम 25% डब्ल्यू. जी. @ 40 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
122
12
तरबूज की फसल का उचित प्रबंधन
तरबूज की फसल के अच्छे और जोरदार विकास और अधिक उत्पादन के लिए फसल का उचित उर्वरक और जल प्रबंधन आवश्यक है। खाद प्रबंधन: मृदा परीक्षणों के अनुसार फसल को रासायनिक उर्वरक...
सलाहकार लेख  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
737
114
मूली की बुवाई
मूली की बुवाई अक्टूबर – नवम्बर माह में की जाती है I बुवाई मेड़ों तथा समतल क्यारियो में भी की जाती हैI लाइन से लाइन या मेड़ से मेंड़ की दूरी 45 से 50 सेंटीमीटर तथा ऊचाई...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
78
0
आंवला: इसके औषधीय उपयोग और उर्वरकों का प्रबंधन
आंवला, व्यापक रूप से एक भारतीय आंवले के या नेली रूप में जाना जाता है इसके औषधीय गुणों में वृद्धि हुई है। इसके फलों का उपयोग एनीमिया, घावों, दस्त, दांत दर्द और बुखार...
सलाहकार लेख  |  अपनी खेती
170
0
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
31 May 19, 06:00 AM
अंतर-फसल पर ध्यान दें।
खरीफ सीजन के दौरान मुख्य फसलों के साथ-साथ अंतर-फसल बोएं। उदाहरण के लिए, बाजरे के साथ अरहर और फलियां, ज्वार के साथ उड़द और मूंग और कपास में उड़द और मूंग की बुवाई की...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
194
0
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
22 Mar 19, 04:00 PM
किसान के उचित नियोजन से उत्पादन में वृद्धि
किसान का नाम - श्री संभाजी काले राज्य - महाराष्ट्र सलाह - प्रति एकड़ 3 किलो 13:0:45 ड्रिप द्वारा दें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
308
13
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
18 Mar 19, 10:00 AM
कोल्ड स्टोर : कम लागत में तैयार करें कोल्ड स्टोर
यह कोल्ड स्टोर पर्यावरण के अनुकूल होता है और इसे कोई भी आसानी से कम खर्च में तैयार कर सकता है।
सलाहकार लेख  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
273
36
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
12 Oct 17, 12:00 AM
गेहूं की बुवाई से पहले किया जाने वाला महत्वपूर्ण कार्य
गेहूं की फसल की गहरी जड़ होती है, इसलिए अच्छे विकास के लिए भूमि की जुताई अच्छी की जानी चाहिए। प्रारंभिक जुताई के समय, एक गहरी जुताई ,फिर2-3 जुताई हेरो से किया जाना...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
326
129