AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
08 Jul 19, 10:00 AM
पपीता के प्रमुख रोग एवं उनका निदान
पपीता, विश्व के उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में उगाया जाने वाला महत्वपूर्ण फल है। यह केला के बाद प्रति ईकाई अधिकतम उत्पादन देने वाला और औषधीय गुणों से भरपूर फलदार पौधा है। वलय-चित्ती...
सलाहकार लेख  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
77
2
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
01 Jul 19, 06:00 AM
पपीते में विषाणुजन्य रोग का प्रबंधन
विषाणुजन्य रोग चूसक कीटों के माध्यम से प्रसारित होते हैं। संक्रमण की जगह पर आवश्यकतानुसार 15 दिनों के अंतराल पर प्रणालीगत कीटनाशकों का छिड़काव करें।
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
67
3
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
29 May 19, 06:00 AM
पपीते में सफेद मक्खी का नियंत्रण
सफेद मक्खी के प्रकोप की प्रारंभिक अवस्था में नीम तेल 300 पीपीएम 1 लीटर प्रति एकड़ 200 लीटर पानी या वर्टिसिलियम लेकानी 1 किलोग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
144
8
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
02 May 19, 04:00 PM
नारियल के खेत में पपीते का अंतर फसल
किसान का नाम - श्री. राकेश राज्य - कर्नाटक सलाह - प्रति एकड़ 19:19:19 @ 3 किलो ड्रिप द्वारा दें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
173
39
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
12 Apr 19, 04:00 PM
पपीते के स्वस्थ और अच्छे विकास के लिए अनुशंसित उर्वरक
किसान का नाम - श्री. राम भाऊ गीते राज्य - महाराष्ट्र सलाह - प्रति एकड़ 19:19:19 @ 3 किलो और ह्यूमिक एसिड 90% @ 500 ग्राम ड्रिप द्वारा दें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
514
81
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
23 Mar 19, 06:00 AM
पपीते में मिलीबग
अनुशंसित कीटनाशकों के छिड़काव के अलावा, संक्रमित पत्तियों और फलों को इकट्ठा करें और नष्ट कर दें। साथ ही बाग की साफ-सफाई का ध्यान रखें और नियमित निराई करें।
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
382
67
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
14 Mar 19, 10:00 AM
पपीते में मिलीबग का एकीकृत प्रबंधन
पपीते में मिलीबग का प्रसार सबसे पहले 2008 में तमिलनाडु के कोयंबटूर में हुआ था। केरल, कर्नाटक, त्रिपुरा और महाराष्ट्र में धीरे-धीरे यह फैलता गया। यह पपीते की पत्तियों,...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
493
61
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
07 Jan 19, 10:00 AM
पपीते के फलों की तुड़ाई और भंडारण
• पपीते के पौधे को लगाने के 10-12 महीने बाद ही इसमें फल तोड़ने के लिए तैयार हो जाते हैं। • फलों के पकने के समय पर पीले रंग के धब्बे आने लगते हैं। • फलों से निकलने...
सलाहकार लेख  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
1231
231