Looking for our company website?  
अनार में फल छेदक (ड्यूडोरिक्स इसोक्रेट्स)
अनार की खेती भारत में औसतन 109.2 हजार हेक्टेयर में की जाती है। फलों की फसल में, अधिकांश कीट अनार को नुकसान पहुंचा रहे हैं, इसमें सबसे ज्यादा फल छेदक नुकसान पंहुचा रहा...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
111
4
गोभी में हीरक पृष्ठ कीट का एकीकृत कीट प्रबंधन
किसान आम तौर पर साल भर गोभी की फसल उगाते हैं। भारत में, 6.87 मिलियन टन के उत्पादन के साथ 0.31 मिलियन हेक्टेयर क्षेत्र में गोभी के फसलों की खेती की जा रही है। पश्चिम...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
82
0
कपास की फसल में गुलाबी इल्ली का नियंत्रण
पिछले कुछ वर्षों से, गुलाबी इल्ली का संक्रमण कपास को गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा रहा है। कलियों, फूलों और विकासशील डोडों पर इस इल्ली द्वारा दिए गए अंडे आमतौर पर आगे...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
351
45
सेमीलूपर और पत्ती खाने वाली इल्ली से अपनी अरंडी फसल को बचाएं
अरंडी की फसल देश के अधिकांश भागों में उगाई जाती है। इस फसल की खेती कुछ राज्यों में मूंगफली और कपास में अंतर - फसल के रूप में भी की जाती है। कुछ चूसने वाले कीटों के...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
157
4
धान की फसल में बाली आने की अवस्था में आने वाले प्रमुख कीट
देश के अधिकांश हिस्सों में धान की रोपाई समाप्त हो गई है और कुछ क्षेत्रों में फल एवं फूल अवस्था शुरू होने वाली है। इस अवस्था में अपर्याप्त देखभाल की स्थिति में, किसानों...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
291
31
कपास की फसल में मिलीबग कीट का एकीकृत प्रबंधन
मिलीबग भारतीय मूल का कीट नहीं है और यह किसी और देश से आया हुआ है। इसका प्रकोप पहली बार 2006 में गुजरात में देखा गया था, जिसके बाद में अन्य राज्यों में भी देखा गया।...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
474
69
लोबिया, मूंग और उड़द में चित्तीदार फली छेदक इल्ली का प्रबंधन
लोबिया, मूंग और उड़द के खेतों में प्रजनन अवस्था में (फूल आने की अवस्था एवं फल बनने की अवस्था) इसका प्रभाव होता है। आम तौर पर, इन फसलों में चित्तीदार फली छेदक इल्ली का...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
146
3
मूंगफली के अधिकतम उत्पादन के लिए अनुशंसित उर्वरकों की मात्रा दें
किसान का नाम: श्री नितेश भाई गोहेल राज्य: गुजरात सुझाव: प्रति एकड़ 25 किलो 20:20:0:13, 25 किलो पोटाश,8 किलो सल्फर 90% मिट्टी के साथ खेत में भुरकाव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
370
7
फसलों में चूहों का प्रभावी नियंत्रण
सब्जियों, तिलहनों, अनाज आदि कई फसलों की प्रारंभिक अवस्था में चूहे फसल को खराब करते हैं। वह मनुष्यों और अन्य जानवरों में सार्वजनिक स्वास्थ्य रोग जैसे प्लेग, लेप्टोस्पायरोसिस...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
296
16
गन्ने की फसल में पायरिल्ला कीट का नियंत्रण
यह कीट बहुत फुर्तीले होते हैं, एक पत्ते से दूसरे पत्ते पर कूदते हैं। जिस क्षेत्र में इनका संक्रमण अधिक होता है वहां जोर से शोर होता है। निम्फ और वयस्क दोनों ही...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
90
6
फसलों में मकड़ी का प्रबंधन
मकड़ी गैर-कीट की श्रेणी में आती है। बदलती पर्यावरणीय स्थिति, फसल के स्वरूप में बदलाव आदि मकड़ी की बढ़ती संख्या के कारण हैं। फसलों की क्षति के अलावा, कुछ प्रजातियों को...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
136
0
मूंगफली की फसल में पत्ती खाने वाली इल्लियों का नियंत्रण
पत्ती खाने वाली इल्लियों (सुंडी) को 'सैनिक कीट' और तंबाकू की पत्ती खाने वाली इल्ली (सुंडी) के नाम से भी जाना जाता है। गर्म मौसम की स्थिति में इनका संक्रमण अधिक समय...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
225
9
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
01 Aug 19, 10:00 AM
धान की फसल में फुदका कीटों का प्रबंधन
धान की फसल मुख्य रूप से हरा फुदका, धान का भूरा फुदका और धान का सफेद पीठ वाला फुदका से प्रभावित होती है। निम्फ और वयस्क पौधों से रस चूसते हैं और इनसे ग्रसित फसल (हॉपर...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
238
8
सोयाबीन की फसल में पत्ती खाने वाली सुंडी (ईल्ली) का प्रबंधन
सोयाबीन एक महत्वपूर्ण खाद्य स्रोत है और इसे दलहन और तिलहन दोनों फसलों के रूप में जाना जाता है। हालांकि, दलहन की तुलना में यह बड़े पैमाने पर तिलहनी फसल के रूप में उपयोग...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
257
19
AgroStar Krishi Gyaan
Maharashtra
18 Jul 19, 10:00 AM
सहजन में कीट प्रबंधन
सहजन की खेती किसानों के लिए बेहद किफायती है। हालांकि, कुछ कीट फसल को संक्रमित करते हैं। मुख्य रूप से लीफ माइनर (घुन कीट) सह वेब निर्माण सुंडी (इल्ली), फल छेदक, रस चूसक...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
369
55