Looking for our company website?  
टमाटर में माहु,हरा तेला,तना एवं फल छेदक कीट के नियंत्रण
टमाटर में माहु, हरा तेला, तना एवं फल छेदक कीट के नियंत्रण के लिए लैम्बडा साइहलोथ्रिन 9.5% + थियामेथोक्साम 12.6% ज़ेडसी@ 50 मिली/ प्रति एकड़ 200 लीटर पानी मे घोलकर छिड़काव...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
92
13
हल्दी के अधिकतम उत्पादन के लिए उपयुक्त पोषक तत्वों का प्रबंधन
किसान का नाम - श्री गजु जोरुले राज्य: महाराष्ट्र सलाह - प्रति एकड़ 19:19:19 @ 3 किलो ड्रिप के माध्यम से दिया जाना चाहिए, सूक्ष्म पोषक तत्व @ 20 ग्राम प्रति पंप छिड़काव...
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
199
7
प्याज की फसल की गुणवत्ता में सुधार
प्याज फसल में तीखापन बढ़ाने और प्याज़ की गुणवत्ता में सुधार के लिए, फसल की वृद्धि अवस्था में सल्फर 90% @ 3 किलोग्राम प्रति एकड़ इसे उर्वरकों में दो बार विभाजित करके दीजिए।
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
141
6
जैविक कार्बनिकता के फायदे
• यह मिट्टी के भौतिक गुणों में सुधार करता है। • जैसे-जैसे मिट्टी की मोटाई घटती जाती है, मिट्टी के कण बढ़ते हैं और हवा का संचार अच्छा होता है। • रासायनिक नाइट्रोजन...
जैविक खेती  |  एग्रोवन
182
0
फूलगोभी की फसल में कवक का संक्रमण
किसान का नाम - श्री समाधान कधभार राज्य: महाराष्ट्र सलाह - मेटालैक्सिल 4% + मैन्कोजेब 64% @ 30 ग्राम प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
154
32
सर्दियों में फसल वृद्धि के लिए उचित नियोजन
सर्दियों में कम तापमान के कारण, फसल की वृद्धि की बढ़वार नहीं होती है। अगर संभव हो तो, पूर्व फसल के दौरान मिट्टी से अच्छी तरह से भुना हुआ गोबर का उपयोग करे और यदि फसल...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
59
0
आकर्षक और स्वस्थ गेंदा की फसल
किसान का नाम - श्री रूशी पाटील राज्य: महाराष्ट्र सलाह - सूक्ष्म पोषक तत्व @ 20 ग्राम प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
2135
13
प्याज में थ्रिप्स का नियंत्रण
प्याज की फसल में थ्रिप्स के नियंत्रण के लिए फिप्रोनिल 5 % एस.सी. @400 मिली प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर छिडकाव करें।
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
87
1
बैंगन को मुख्य क्षेत्र में प्रत्यारोपण करने से पहले एहतियाती उपाय
आमतौर पर किसान सालभर बैंगन की फसल लगाते हैं। कुछ रस चूसने वाले कीट जैसे माहु, हरा तेला, सफेद मक्खी, मकड़ी और साथ ही शीर्ष बेधक एंव फल छेदक इस फसल को प्रभावित कर रहे...
गुरु ज्ञान  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
153
11
कपास की फसल में सुंडी का संक्रमण
किसान का नाम: श्री सत्यनारायण राज्य: तेलंगाना सलाह: कपास की फसल में सुंडी को नियंत्रित करने के लिए लार्विन (थायोडिकार्ब 75 डब्ल्यूपी) @ 30 ग्राम प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
263
48
अमरूद में नेमाटोड की रोकथाम
अमरूद में नेमाटोड की रोकथाम के लिए सूत्रकृमी नियंत्रण कवक पेसियोलोमायसिस लीलासिनस (Paecilomyces lilacinus) 1 लीटर प्रति एकड़ ड्रिप के द्वारा देना चाहिए।
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
45
3
बैंगन में पत्ती खाने वाली इल्ली का संक्रमण
किसान का नाम: श्री कासिम वल्ली राज्य: तेलंगाना सलाह : पत्ती खाने वाली इल्ली को नियंत्रित करने के लिए इमामेक्टिन बेंजोएट 5% एसजी@ 10 ग्राम प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
209
14
टमाटर में अगेती एवं पछेती झुलसा रोग की रोकथाम
टमाटर की फसल में अगेती एवं पछेती झुलसा रोग की रोकथाम के लिए एज़ोक्सीस्ट्रोबिन 18.2% w/w + डाईफेनाकोनाज़ोल 11.4% w/w एस.सी. @ 200 मिली प्रति एकड़ 200 लीटर पानीमे घोलकर...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
127
12
पपीता में जड़ सड़न की समस्या एवं दीमक कीटका प्रबंधन
पपीता में जड़ सड़न की समस्या एवं दीमक कीट की रोकथाम के लिए क्लोरोपायरीफास 20% ई.सी. @ 2 मिली प्रति लीटर पानी + कार्बेनडाज़िम 50% डब्लू.पी. @ 1 ग्राम प्रति लीटर पानी में...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
60
2
नींबू में कैंकर रोग का प्रबंधन
नींबू में इस माह केंकर रोग फैलने ली आशंका रहती है। इसीलिए रोग ग्रसित पत्तियां एवं टहनियों को काट कर जला दें एवं कॉपर ऑक्सिक्लोराइड 50% डब्ल्यू. पी.@ 45 ग्राम + स्ट्रेप्टोसाइक्लीन...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
63
3
फल छेदक कीट पतंगों का एकीकृत प्रबंधन
मौसंबी,संतरा, अनार और अंगूर की फलों के रस को अवशोषित करने वाले पतंगों का प्रसार व्यापक रूप से देखा जाता है। हर साल अगस्त से नवंबर तक, यह कीट वयस्क अवस्था में पाया...
जैविक खेती  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
57
0
रस चूसने वाले कीटों के हमले से शिमला मिर्च का प्रभावित विकास
किसान का नाम: श्री शांतेश वनाहल्ली राज्य: कर्नाटक सलाह: स्पिनोसेड 45% एससी@ 7 मिली प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
153
0
पपीता में विषाणु जनित रोग लीफ कर्ल की रोकथाम
पपीता में विषाणु जनितरोग लीफ कर्लकी रोकथाम हेतुरोगग्रस्त पौधों को उखाड़कर नष्ट करें एवं रोग वाहक कीट सफेद मक्खी के नियंत्रण के लिए डायफेन्थुरान 50% डब्ल्यू.पी. @ 250...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
64
0
अदरक में कवक का संक्रमण
किसान का नाम: श्री रामदास कुबेर राज्य: महाराष्ट्र सलाह: ज़िनेब 68% + हेक्साकोनाज़ोल 4% डब्ल्यूपी@ 30 ग्राम + कसुगामाइसिन 3% एसएल@ 25 मिली प्रति पंप छिड़काव करें।
आज का फोटो  |  एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
373
24
भिंडी में फल छेदक इल्ली का नियंत्रण
भिंडी की फसल में फल छेदक इल्ली के नियंत्रण के लिए फ्लूबेंडामाइड़ 20% डब्ल्यू. जी.@ 50 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी या क्लोरोन्ट्रेनिलीप्रोल 18.5%एस.सी. @ 60 मिली प्रति...
आज का सुझाव  |  AgroStar एग्री-डॉक्टर
73
9
और देखिए